Jharkhand News: संसद की सुरक्षा में चूक के बाद झारखंड विधानसभा में तैनात रहेंगे 1000 पुलिसकर्मी

Jharkhand: लोकसभा में दो युवकों के दर्शक दीर्घा में कूदने की घटना से सबक लेते हुए 15 दिसंबर से शुरू हो रहे झारखंड विधानसभा के शीतकालीन सत्र में सुरक्षा के विशेष इंतजाम रहेंगे।
Jharkhand Vidhan Sabha
Jharkhand Vidhan Sabharaftaar.in

रांची, (हि.स.)। लोकसभा में दो युवकों के दर्शक दीर्घा में कूदने की घटना से सबक लेते हुए 15 दिसंबर से शुरू हो रहे झारखंड विधानसभा के शीतकालीन सत्र में सुरक्षा के विशेष इंतजाम रहेंगे। विधानसभा आने वाले दर्शकों की गहन जांच होगी। उनकी मेटल डिटेक्टर के अलावा मैनुअली जांच भी की जायेगी। सत्र के दौरान पांच आइपीएस, 12 डीएसपी और 1000 पुलिसकर्मी तैनात रहेंगे।

संसद भवन की घटना के बाद झारखंड विधानसभा सत्र के लिए सुरक्षा के विशेष इंतजाम

सुरक्षा में जैप, रैप, इको, आइआरबी, एसआइआरबी सहित पुलिसकर्मी शामिल रहेंगे। साथ ही हथियारबंद जवानों के अलावा डंडा पार्टी की भी तैनाती होगी। जिला के एसएसपी, सिटी एसपी, ग्रामीण एसपी, ट्रैफिक एसपी सहित मुख्यालय से मिले एक आइपीएस सहित पांच आइपीएस को सुरक्षा में लगाया गया है। इस संबंध में रांची एसएसपी चंदन कुमार सिन्हा ने बताया कि दिल्ली के संसद भवन की घटना के बाद झारखंड विधानसभा सत्र के लिए सुरक्षा के विशेष इंतजाम किये गये हैं।

नागपुर में भी विधानसभा भवन में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गयी

संसद भवन में चूक के बाद, नागपुर में भी विधानसभा भवन में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गयी। नागपुर विधानसभा में भी ऐसी चूक न हो इसके लिए दो विजिटर पास जारी करने की बात हुई। नागपुर विधानसभा अध्यक्ष राहुल नार्वेकर ने कहा कि मैंने पहले भी सदस्यों से अधिक से अधिक दो विजिटर पास लेने का अनुरोध किया है। उन्होंने कहा कि अब किसी भी विधायक को सिर्फ दो विजिटर पास दिए जाएंगे। इसका कठोरता से पालन करना जरूरी है। विधानपरिषद की सभापति नीलम गोरहे ने भी विधानपरिषद के सदस्यों को सिर्फ दो विजिटर पास दिए जाने की घोषणा की। इसके साथ ही नागपुर में विधान भवन की भी सुरक्षा बढाई गई है।

संसद की सुरक्षा में चूक

उल्लेखनीय है कि भारतीय संसद के निचले सदन (लोकसभा) की कार्यवाही स्थानीय समयानुसार दोपहर 2 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई थी। 2 लोगों ने इमारत में प्रवेश किया और सांसदों और स्पीकर पर आंसू गैस के गोले फेंके। दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। संसद पर हमले के 22 साल बाद लोकसभा में बड़ी सुरक्षा चूक से आहत कई सांसदों ने घटना की उच्च स्तरीय जांच की मांग की। रंगीन धुएं से भरे कनस्तर लेकर दो आदमी दर्शक दीर्घा से लोकसभा के कक्ष में कूद पड़े। फ़ुटेज में उनमें से एक को डेस्क के ऊपर से कूदते हुए और अध्यक्ष की कुर्सी की ओर बढ़ते हुए दिखाया गया है, जबकि दूसरे ने एक कनस्तर से पीला धुंआ उगल दिया था।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.