भारत की सबसे अमीर महिला ने चुनाव से ठीक पहले छोड़ा कांग्रेस का साथ, जानें कौन हैं सावित्री जिंदल?

Savitri Jindal: सावित्री जिंदल ने कांग्रेस को छोड़ने का ऐलान कर दिया है। सावित्री देवी का नाम देश की अमीर महिलाओं में शुमार है।
Savitri Jindal
Savitri Jindalraftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। लोकसभा चुनाव को लेकर सभी दल काफी सतर्क हैं और सोच समझकर योग्य उम्मीदवार का चयन कर रहे हैं। अधिकतर दल अपने योग्य उम्मीदवारों का चयन आगामी लोकसभा चुनाव 2024 के लिए कर चुके हैं। हर पार्टी चाहती है कि बड़ा नेता उनकी पार्टी को न छोड़े। जैसे ही लोकसभा चुनाव 2024 की तारीखे नजदीक आ रही है। ऐसे समय में कांग्रेस को एक के बाद एक झटके लग रहे हैं। अब सावित्री जिंदल ने कांग्रेस को छोड़ने का ऐलान कर दिया है। सावित्री जिंदल का नाम देश की अमीर महिलाओं में शुमार है। अगर उन्हें देश की सबसे अमीर महिला कहे तो इसमें कोई गलत बात नहीं है। इस खबर में हम उनकी नेटवर्थ भी जानेंगे। वह ओपी जिंदल समूह की चेयरमैन और हरियाणा की पूर्व मंत्री हैं। उन्होंने बुधवार रात को कांग्रेस छोड़ने की घोषणा की।

'एक्स' पर सावित्री जिंदल ने कांग्रेस छोड़ने की पुष्टि की

सावित्री जिंदल ने बुधवार रात को अपने सोशल मीडिया अकाउंट एक्स पर एक पोस्ट के माध्यम से कांग्रेस को छोड़ने की घोषणा की। उन्होंने इस पोस्ट में लिखा "मैंने विधायक के रूप में 10 साल हिसार की जनता का प्रतिनिधित्व किया और मंत्री के रूप में हरियाणा प्रदेश की निस्वार्थ सेवा की है। हिसार की जनता ही मेरा परिवार है और मैं अपने परिवार की सलाह पर आज कांग्रेस पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे रही हूं। कांग्रेस नेतृत्व के समर्थन के लिए व सभी साथियों का, जिन्होंने हमेशा मुझे अपना सहयोग और मान-सम्मान दिया, उनकी सदैव आभारी रहूँगी।

सावित्री जिंदल दुनिया की टॉप अरबपतियों में 56वें स्थान पर हैं

भारत की सबसे अमीर महिला हैं सावित्री जिंदल। वह 84 साल की उम्र में जिंदल ग्रुप का कारोबार संभाल रही हैं। ब्लूमबर्ग बिलियनेयर्स इंडेक्स की रिपोर्ट के अनुसार 28 मार्च 2024 तक सावित्री जिंदल की कुल संपत्ति यानि नेटवर्थ 29.6 अरब डॉलर है। अगर इसे भारतीय रुपयों में देखा जाये तो यह करीब 2.47 लाख करोड़ रुपये के आस-पास है। भारत में सावित्री जिंदल सबसे अमीर महिला हैं। अगर पूरी दुनिया की बात करे तो सावित्री जिंदल दुनिया की टॉप अरबपतियों में 56वें स्थान पर हैं।

सावित्री जिंदल का राजनीतिक करियर

सावित्री जिंदल के पति का वर्ष 2005 में एक विमान दुर्घटना में मृत्यु हो गई थी। जिसके बाद सावित्री को हिसार निर्वाचन क्षेत्र से हरियाणा विधानसभा के चुना गया था। वर्ष 2009 में सावित्री जिंदल हिसार से फिर से विधायक बनी और हरियाणा विधानसभा पहुंची। अक्टूबर 2013 में सावित्री को हरियाणा सरकार में कैबिनेट मंत्री बनाया गया था। उन्हें वर्ष 2014 के विधानसभा चुनाव में हिसार से हार का सामना करना पड़ा था। सावित्री जिंदल ने वर्ष 2006 में शहरी स्थानीय निकाय और आवास राज्य मंत्री के रूप अपना कार्यभार संभाला था।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.