Loksabha Election: गुजरात में भाजपा को लगा बड़ा झटका, दो उम्मीदवारों ने चुनाव लड़ने से किया मना

Loksabha Election 2024: कांग्रेस के बाद अब गुजरात में भाजपा के लोकसभा सीट के उम्मीदवारों ने चुनाव लड़ने से अनिच्छा जता कर सभी को हैरान कर दिया है।
Bhikaji Thakor and Ranjanben Dhananjay Bhatt
Bhikaji Thakor and Ranjanben Dhananjay Bhattraftaar.in

वडोदरा, (हि.स.)। कांग्रेस के बाद अब गुजरात में भाजपा के लोकसभा सीट के उम्मीदवारों ने चुनाव लड़ने से अनिच्छा जता कर सभी को हैरान कर दिया है। पहले वडोदरा की सांसद और भाजपा की उम्मीदवार रंजनबेन भट्ट ने निजी कारणों से चुनाव नहीं लड़ने की घोषणा की। इसके बाद साबरकांठा लोकसभा सीट से भाजपा उम्मीदवार भीखाजी ठाकोर ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट एक्स पर व्यक्तिगत कारणों से चुनाव नहीं लड़ने की घोषणा की।

भाजपा के दो उम्मीदवारों ने चुनाव नहीं लड़ने की घोषणा की है

लोकसभा चुनाव में भाजपा के दो उम्मीदवारों ने चुनाव नहीं लड़ने की घोषणा की है। माना जा रहा है कि वडोदरा में पहले ज्योतिबेन पंडया और बाद में विधायक केतन इनामदार के विरोध से आहत भाजपा उम्मीदवार और मौजूदा सांसद रंजनबेन भट्ट ने चुनाव लड़ने से मना कर दिया है। वडोदरा सीट पर रंजनबेन भट्ट लगातार तीसरी बार उम्मीदवार बनाई गई थी। दो टर्म से वह इस सीट पर सांसद हैं। इसके अलावा तीन दिन पहले हरणी रोड संगम चौराहे के पास कई सोसायटियों में रंजनबेन भट्ट के विरुद्ध बैनर भी लगाए गए थे। हालांकि पुलिस ने तुरंत ही बैनर लगाने वाले कांग्रेस कार्यकर्ता हरीश उर्फ हरी ओड, ध्रुवित वसावा समेत तीन को गिरफ्तार कर लिया था।

इस क्षेत्र में आदिवासी वोटबैंक बहुतायत है

इसी तरह, साबरकांठा सीट पर भाजपा की उम्मीदवारी छोड़ने की घोषणा करने वाले भीखाजी ठाकोर भी कुछ कारणों से नाराज बताए जा रहे हैं। भाजपा ने यहां से सीटिंग एमपी दीप सिंह राठौड़ का टिकट काट कर भीखाजी ठाकोर को उम्मीदवार बनाया है। बताया गया कि उनकी जाति को लेकर भी विवाद है, जिसमें उन्हें मूल रूप से डामोर बताया जा रहा है। इसके अलावा इस सीट पर कांग्रेस के कद्दावर नेता तुषार चौधरी को उम्मीदवार बनाया है, जो कि पूर्व मुख्यमंत्री अमर सिंह चौधरी के बेटे हैं। इस सीट से उनकी सौतेली माता निशा चौधरी भी तीन बार 1996, 1998 और 1999 में जीत चुकी है। इस क्षेत्र में आदिवासी वोटबैंक बहुतायत है, जो अब तक कांग्रेस का परंपरागत वोट रहा है।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.