Gujarat: APSEZ ने MSC के साथ किया रणनीतिक साझेदारी का विस्तार
raftaar.in

Gujarat: APSEZ ने MSC के साथ किया रणनीतिक साझेदारी का विस्तार

Ahmedabad: टर्मिनल इन्वेस्टमेंट लिमिटेड के सीईओ अम्मार कनान ने कहा, "हम भारत के सबसे बड़े प्राइवेट सेक्टर पोर्ट ऑपरेटर एपीएसईजेड के साथ अपनी साझेदारी को मजबूत करके बेहद खुश हैं।

अहमदाबाद, (हि.स.)। देश की बड़ी ट्रांसपोर्ट यूटिलिटी अडाणी पोर्ट्स एंड स्पेशल इकोनॉमिक जोन लिमिटेड (एपीएसईजेड) ने अडाणी एन्नोर कंटेनर टर्मिनल प्राइवेट लिमिटेड (एईसीटीपीएल) के संचालन के लिए दुनिया की सबसे बड़ी कंटेनर शिपिंग लाइन एमएससी की कंटेनर टर्मिनल ऑपरेटिंग और इन्वेस्टमेंट शाखा, टर्मिनल इन्वेस्टमेंट लिमिटेड (टीआईएल) के साथ अपनी दूसरी रणनीतिक साझेदारी की शुरुआत की है। यह दूसरा संयुक्त उद्यम (जेवी) अडाणी इंटरनेशनल कंटेनर टर्मिनल प्राइवेट लिमिटेड (एआईसीटीपीएल) के लिए टीआईएल के साथ 2013 के संयुक्त उद्यम की सफलता के आधार पर हुआ है, जो भारत के सबसे बड़े प्राइवेट कमर्शियल पोर्ट मुंद्रा पोर्ट पर सीटी3 कंटेनर टर्मिनल का संचालन करता है।

क्षेत्रीय विकास को एक स्पष्ट व्यापार नजरिये के साथ गति देने का दृढ़ उद्देश्य रखता है

एपीएसईजेड के सीईओ करण अडाणी ने कहा, "एपीएसईजेड की टीआईएल और एमएससी के साथ एक मजबूत साझेदारी है, जो आपसी विश्वास और पारदर्शिता पर आधारित है, जिसे हमारी बढ़ती साझेदारी के रूप में देखा जा सकता है। इस दूसरे संयुक्त उद्यम के साथ, अब हम दक्षिण में सबसे तेजी से बढ़ते कंटेनर टर्मिनल बाजारों में से एक में इस रणनीतिक साझेदारी को बढ़ा रहे हैं। हमारा लक्ष्य एन्नोर कंटेनर टर्मिनल में एआईसीटीपीएल टर्मिनल की सफलता को दोहराना और दक्षिण भारतीय बाजार की व्यापार जरूरतों को पूरा करना है। दुनिया की सबसे बड़ी शिपिंग कंपनी के साथ हमारे इस संबंध को मजबूत बनाना, एपीएसईजेड के मजबूत दृष्टिकोण को दिखाता है जो क्षेत्रीय विकास को एक स्पष्ट व्यापार नजरिये के साथ गति देने का दृढ़ उद्देश्य रखता है।"

एपीएसईजेड के साथ अपनी साझेदारी को मजबूत करके बेहद खुश हैं

टर्मिनल इन्वेस्टमेंट लिमिटेड के सीईओ अम्मार कनान ने कहा, "हम भारत के सबसे बड़े प्राइवेट सेक्टर पोर्ट ऑपरेटर एपीएसईजेड के साथ अपनी साझेदारी को मजबूत करके बेहद खुश हैं। यह सहयोग हमें दुनिया की एक सबसे तेजी से बढ़ रही अर्थव्यवस्था में टर्मिनल इन्वेस्टमेंट लिमिटेड (टीआईएल) की उपस्थिति को और बेहतर बनाने की स्वीकृति देगा और भारतीय उपमहाद्वीप के ग्राहकों के लिए मजबूत करेगा।"

लेन-देन पूरा करने के बाद एपीएसईजेड के पास एईसीटीपीएल में 51% हिस्सेदारी होगी

टर्मिनल इन्वेस्टमेंट लिमिटेड अपनी पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी मुंडी लिमिटेड के माध्यम से 247 करोड़ रुपये में एपीएसईजेड से एईसीटीपीएल के 49% शेयर्स का अधिग्रहण करेगी। एईसीटीपीए की कुल एंटरप्राइज वैल्यू 1,211 करोड़ रुपये है। यह लेन-देन विनियामक मंजूरी के साथ की गयी है। लेन-देन पूरा करने के बाद एपीएसईजेड के पास एईसीटीपीएल में 51% हिस्सेदारी होगी।

टर्मिनल का यह समझौता 2044 तक के लिए है

भारत के पूर्वी तट पर स्थित एईसीटीपीएल की घाट लंबाई 400 मीटर और वार्षिक हैंडलिंग क्षमता 0.8 मिलियन टीईयू है। टर्मिनल ने वित्त वर्ष 23 में 0.55 मिलियन टीईयू और चालू वित्त वर्ष के शुरुआती आठ महीनों में 0.45 मिलियन टीईयू को संभालने का काम किया है। टर्मिनल का यह समझौता 2044 तक के लिए है और इसकी वार्षिक क्षमता को 1.4 मिलियन टीईयू तक बढ़ाया जा सकता है।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.