YSR तेलंगाना का कांग्रेस में हुआ विलय, जगन मोहन रेड्डी की बहन वाई एस शर्मिला को खरगे ने कराया पार्टी में शामिल

YS Sharmila joined Congress: आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएसआर तेलंगाना जगन मोहन रेड्डी की बहन वाईएस शर्मिला गुरुवार को कांग्रेस में हुई शामिल। उन्होंने अपनी पार्टी का कांग्रेस में किया विलय।
YS Sharmila joined Congress
YS Sharmila joined Congress

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएसआर तेलंगाना जगन मोहन रेड्डी की बहन वाईएस शर्मिला गुरुवार को कांग्रेस में शामिल हो गईं। उन्होंने अपनी पार्टी का कांग्रेस में विलय कर लिया है। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खडगे और सांसद राहुल गांधी की मौजूदगी में उन्होंने पार्टी की सदस्यता ली।

वाईएसआर तेलंगाना पार्टी आज से भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस का हिस्सा

कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल ने यह जानकारी देते हुए बताया कि आज आंध्र प्रदेश की वरिष्ठ नेता वाईएस शर्मिला ने नई दिल्ली में कांग्रेस पार्टी मुख्यालय में पार्टी अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे व राहुल गांधी की उपस्थिति में कांग्रेस में शामिल हुईं। शर्मिला ने मीडिया से बातचीत में कहा कि उन्हें खुशी है कि वाईएसआर तेलंगाना पार्टी आज से भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस का हिस्सा बनने जा रही है। कांग्रेस अभी भी हमारे देश की सबसे बड़ी धर्मनिरपेक्ष पार्टी है और इसने हमेशा भारत की सच्ची संस्कृति को बरकरार रखा है और हमारे राष्ट्र की नींव का निर्माण किया है।

शर्मिला के कांग्रेस में आने से आंध्र प्रदेश में मजबूत होगी पार्टी

उल्लेखनीय है कि शर्मिला ने दिल्ली पहुंचकर पहले कांग्रेस आलाकमान से मुलाकात की और फिर कांग्रेस मुख्यालय पहुंचकर पार्टी अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे व राहुल गांधी की उपस्थिति में कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की। शर्मिला के कांग्रेस में शामिल होने से पार्टी को आंध्र प्रदेश में मजबूती मिल सकती है। शर्मिला आंध्र प्रदेश के सीएम जगन मोहन रेड्डी की बहन हैं। उन्होंने कांग्रेस में शामिल होते ही अपनी पार्टी वाईएसआर तेलंगाना का कांग्रेस में विलय का भी ऐलान कर दिया है। शर्मिला ने कहा कि मेरे पिता का सपना था कि राहुल गांधी प्रधानमंत्री बनें, मुझे खुशी है कि मैं इसके लिए काम करूंगी। शर्मिला ने कहा कि उन्हें ईसाई के तौर पर मणिपुर हिंसा के कारण बहुत दुख हुआ। अगर सेक्युलर पार्टी सत्ता में नहीं होगी तो यही होगा।

भाई के मतभेदों के चलते शर्मिला ने वाईएसआर तेलंगाना पार्टी का गठन किया

गौरतलाब है कि वाईएसआर शर्मिला आंध्र के पूर्व सीएम वाई एस राजशेखरा रेड्डी की बेटी हैं। राजशेखरा रेड्डी पहले कांग्रेस में थे। सीएम रहते एक विमान दुर्घटना में उनका निधन हो गया था। उनके निधन के बाद जब पार्टी ने शर्मिला के भाई जगन मोहन रेड्डी को सीएम नहीं बनाया, तो जगन मोहन ने अपनी पार्टी वाईएसआर कांग्रेस बनाई। शुरुआत में शर्मिला वाईएसआर कांग्रेस पार्टी संयोजक बनीं और उन्होंने अपने भाई और मां के साथ आंध्र में प्रचार किया। 2021 में अपने भाई के मतभेदों के चलते उन्होंने वाईएसआर कांग्रेस से नाता तोड़ लिया और तेलंगाना में नई पार्टी वाईएसआर तेलंगाना पार्टी का गठन किया। अब उन्होंने वाईएसआर तेलंगाना पार्टी का कांगेस में विलय कर दिया है।

अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.