प्राण प्रतिष्ठा से दूरी बनाने वाली पार्टियों पर सुब्रह्मण्यम स्वामी का बड़ा हमला, कहा- 'उन्हें जलन हो रही है'

Ram mandir: राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा को लेकर विपक्षी दलों की तरफ से हो रही बयानबाजी को लेकर बीजेपी नेता और पूर्व राज्यसभा सांसद सुब्रह्मण्यम स्वामी ने उन पर हमला बोला है।
Subramanian Swamy
Subramanian SwamyRaftaar

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा को लेकर विपक्षी दलों की तरफ से हो रही बयानबाजी को लेकर बीजेपी नेता और पूर्व राज्यसभा सांसद सुब्रह्मण्यम स्वामी ने उन पर हमला बोला है। स्वामी ने कहा है कि उन्हें कभी लगा ही नहीं था कि राम मंदिर का निर्माण होगा। अब जब राम मंदिर का निर्माण हो रहा है तो विपक्ष को जलन हो रही है। और अब ये जो बयानबाजी हो रहीं है ये उसी का परिणाम है। स्वामी ने कहा कि जिन लोगों को बाहर से फंडिंग मिल रही है, सिर्फ वे ही लोग इसका विरोध कर रहे हैं। यहां तक कि अल्पसंख्यक समुदाय भी राम मंदिर को लेकर खुश है।

निमंत्रण मिलने के बाद भी कई दलों ने किया प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम से परहेज

दरअसल, अयोध्या में 22 जनवरी को राम मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम है। जिसके लिए विपक्षी दलों को भी निमंत्रण दिया था। निमंत्रण मिलने के बाद भी कई दलों ने प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में शामिल होने से इनकार कर दिया था। इसमें प्रमुख तौर पर कांग्रेस और भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) का नाम शामिल है। कांग्रेस पार्टी का कहना है कि बीजेपी ने इस धार्मिक कार्यक्रम को राजनीतिक कार्यक्रम में बदल दिया है। सीपीआईएम जैसी अन्य विपक्षी पार्टियों की तरफ से भी प्राण प्रतिष्ठा को लेकर इसी तरह की बातें कही जा रही हैं।

कुछ कट्टरपंथी मचा रहे शोर

इस पर बीजेपी नेता स्वामी ने कहा, 'उन्हें जलन हो रही है। उन्होंने कभी नहीं सोचा था कि ऐसा राम मंदिर का निर्माण होगा। राम मंदिर बन रहा है, इसको लेकर पूरे देश में उत्साह है। वे (विपक्ष) मुश्किल स्थिति में हैं। मुझे कोई परवाह नहीं है क्योंकि भारत में 82 प्रतिशत हिंदू है।' स्वामी ने कहा, 'देश के अल्पसंख्यकों- ईसाई, पारसी, यहूदी- ने इसका बिल्कुल भी विरोध नहीं किया है। देश के अल्पसंख्यक भी राम मंदिर के समर्थन में हैं। मुसलमानों के बीच भी बड़ी संख्या में लोग कहते हैं कि हमने भारत में रहना चुना, इसलिए यह कुछ ऐसा है जिसे हमें समायोजित करना होगा। मैं कहूंगा कि केवल कुछ कट्टरपंथी हैं, जिन्हें बाहर से फंडिंग मिल रही है। वे ही सारा शोर मचा रहे हैं।

राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा की तैयारी

आपको बता दें अयोध्या में राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा की तैयारी जोर-शोर से चल रही है। 22 जनवरी को रामलला को गर्भ गृह में स्थापित किया जाएगा। हर राम भक्त को इस दिन का लंबे समय से इंतजार था। अयोध्या में 22 जनवरी से लेकर 25 मार्च तक कई खास कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। सड़कों को सजाया गया है और उन पर खूबसूरत स्ट्रीट लैंप लगाए गए हैं। शहर में सुरक्षा व्यवस्था को भी कड़ा कर दिया गया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हाल में कहा था कि अयोध्या इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर 22 जनवरी को 110 के करीब चार्टर्ड प्लेन पहुंचने वाले हैं।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.