Election Commission: IAS अधिकारी ज्ञानेश कुमार और सुखबीर सिंह संधू बने नए चुनाव आयुक्त, विपक्ष ने जताई नाराजगी

New Delhi: PM मोदी की अध्यक्षता वाली उच्च स्तरीय समिति ने आज रिटायर्ड IAS अधिकारी ज्ञानेश कुमार और सुखबीर सिंह संधू को चुनाव आयुक्त घोषित किया।
Election Commission
IAS Gyanesh Kumar 
IAS Sukhbeer Singh Sandhu
Election Commission IAS Gyanesh Kumar IAS Sukhbeer Singh SandhuRaftaar.in

नई दिल्ली रफ्तार डेस्क। प्रधानमंत्री की अध्यक्षता वाली उच्च स्तरीय समिति ने आज रिटायर्ड IAS अधिकारी ज्ञानेश कुमार और सुखबीर सिंह संधू को चुनाव आयुक्त घोषित किया है। लेकिन पैनल में विपक्षी सदस्य अधीर रंजन चौधरी ने इस प्रक्रिया पर सवाल उठाते हुए अपनी असहमति दर्ज कराई है। जिसके बाद उन्होंने कहा कि शॉर्टलिस्ट किए गए अधिकारियों के नाम उसे पहले से उपलब्ध नहीं कराया गया।

पत्र मे क्या लिखा?

कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी भी इस पैनल के मुख्य सदस्य हैं। उन्होंने सरकार को पत्र लिखकर आज चुनाव आयुक्तों की बैठक से पहले शोर्टलिस्ट कैंडिडेट की बायो डाटा प्रोफाइल भेजने की मांग की थी। केंद्रीय कानून और न्याय मंत्रालय के विधायी विभाग और कानूनी मामलों के विभाग के सचिव राजीव मणि को लिखे पत्र में अधीर रंजन चौधरी ने मुख्य सूचना आयुक्त और सूचना आयुक्तों और प्रमुखों के चयन के संबंध में सरकार द्वारा अपनाई जाने वाली प्रक्रिया का उल्लेख किया है। सतर्कता आयुक्त और सतर्कता आयुक्तों ने सरकार से समान प्रक्रिया का पालन करने का निवेदन किया।

कौन-कौन होंगे पैनल में शामिल?

अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि "इस समिति द्वारा चुने गए व्यक्तियों की बायो-प्रोफाइल चयन समिति की बैठक से पहले ही रखना आवश्यक होगा। इससे मामले में तर्कसंगत निर्णय लेने में आसानी होगी। इसलिए मैं अनुरोध करूंगा कि नियुक्ति के लिए विचार किए जाने वाले शॉर्टलिस्ट किए गए व्यक्तियों के बायो-प्रोफाइल वाले 'डोजियर' को बैठक से काफी पहले सदस्यों को उपलब्ध कराया जाए।" इस समिति में प्रधानमंत्री, एक केंद्रीय मंत्री और विपक्ष के नेता या लोकसभा में सबसे बड़े विपक्षी दल के नेता पैनल का हिस्सा थे। इसलिए अधीर रंजन चौधरी का नाम इसमें शामिल किया गया था।

दो पदों पर भरे जाएंगे आयुक्त

हाल ही में अनूप चंद्र पांडे की सेवानिवृत्ति और पिछले 9 फरवरी को अरुण गोयल के आश्चर्यजनक इस्तीफे से बनी रिक्तियों को भरने के लिए दो चुनाव आयुक्तों का चयन करने के लिए केंद्र सरकार ने एक समिति बनाकर आज इस मामले पर बैठक करने का फैसला लिया। सूत्रों के अनुसार, आगामी लोकसभा चुनाव को मद्दे नजर देखते हुए। इन दोनों नए चुनाव आयुक्तों के जल्द ही कार्यालय में प्रवेश करेंगे। यह दोनों पद भरने के बाद ही मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार लोकसभा चुनाव कराने में सक्षम होंगे।।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.