राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू का अभिभाषण: राम मंदिर से लेकर नारी शक्ति पर ये बातें कहीं

New Delhi: राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू आज नई संसद भवन से सभा को अभिभाषण दे रही हैं। उन्होंने अमृत भारत और विकसित भारत के मिशन के उपर कई बाते कहीं और उनकी सराहना की।
President Draupadi Murmu
President Draupadi Murmu Raftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। देश की राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू आज नई संसद भवन से सभा को अभिभाषण दे रही हैं। आज 11 बजे उनका अभिभाषण शुरु हुई जिसमें PM मोदी समेत पक्ष और विपक्ष के सभी नेता उपस्थित हैं। राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू ने विकसित भारत के मिशन से अभिभाषण की शुरुआत की।

अमृत भारत

राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू ने अमृत भारत में PM मोदी के 10 साल में किए गए कार्यों की उपलब्धियों को गिनाया। उन्होंने 10 साल में किए गए कामों का जिक्र करते हुए कहा कि पिछले 75 सालों में जो न हुआ वो इन 10 सालों में हमारी सरकार ने कर दिखाया। उन्होंने 'मेक इन इंडिया' और 'डिजिटल भारत' को देश की ताकत बताया, उन्होंने आगे कहा कि भारत दुनिया का पहला देश है जिसने चंद्रमा के साउथ पोल में भारत का झंडा फहराया। आदित्य L-1 का सफल लांच हुआ। उन्होंने आगे कहा कि हमारी सरकार में महिलाओं को उनका हक मिला "नारी शक्ति वंदन अधिनियम" आज कानून बन गया है, जिससे लोकसभा और विधानसभा में महिलाओं की भागीदीरी बढ़ी। राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू ने राम मंदिर का भी जिक्र किया और कहा कि राम मंदिर अब सपना नहीं हकीकत बन गया है।

विकसित भारत

राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू ने विकसित भारत की ओर भारत के बढ़ते कदम की सराहना की और कहा कि अब दंड नहीं न्याय पर हमारी सरकार की प्राथमिकता होगी। हमारी सरकार ने तीन तलाक खत्म किया। जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 अब इतिहास बन चुका है। भारतीय दंड संहिता में पुराने कानूनों को संशोधित किया गया।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.