Rozgar Mela: PM मोदी ने 1 लाख से अधिक युवाओं को वितरित किए नियुक्ति पत्र, ‘कर्मयोगी भवन’ की रखी आधारशिला

New Delhi: रोजगार मेले में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से नवनियुक्त युवाओं को 1 लाख से अधिक नियुक्ति पत्र वितरित किए।
PM Modi in Rozgar Mela
PM Modi in Rozgar Mela Raftaar.in

नई दिल्ली, हि.स.। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को कहा कि भाजपा सरकार ने पिछले 10 वर्षों में पूर्ववर्ती सरकारों की तुलना में डेढ़ गुना अधिक युवाओं को सरकारी नौकरियां दी हैं। उन्होंने कहा कि हमने भारत सरकार में भर्ती की प्रक्रिया को अब पूरी तरह पारदर्शी बना दिया है। प्रधानमंत्री वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से नवनियुक्त युवाओं को 1 लाख से अधिक नियुक्ति पत्र वितरित करने के बाद संबोधित कर रहे थे।

‘कर्मयोगी भवन’

यह रोजगार मेला देशभर में 47 स्थानों पर आयोजित किया गया था। इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने रिमोट का बटन दबाकर नई दिल्ली में इंटीग्रेटेड ट्रेनिंग कॉम्प्लेक्स ‘कर्मयोगी भवन’ के प्रथम चरण की आधारशिला भी रखी। प्रधानमंत्री ने विश्वास जताते हुए कहा कि इस नए ट्रेनिंग कॉम्प्लेक्स से क्षमता निर्माण की हमारी पहल को और मजबूती मिलेगी। यह परिसर मिशन कर्मयोगी के विभिन्न हिस्सों के बीच सहयोग और तालमेल को बढ़ावा देगा।

युवा शक्ति को बढ़ा रहा रोजगार मेला

प्रधानमंत्री मोदी ने इस अवसर पर सभी 1 लाख से अधिक नवनियुक्त युवाओं और उनके परिवारों को सरकारी नौकरी की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि आपने अपनी कड़ी मेहनत से इस सफलता को हासिल किया है। रोजगार मेला राष्ट्र निर्माण में हमारी युवा शक्ति के योगदान को बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं।

कांग्रेस सरकार पर कसा तंज

उन्होंने कहा कि भारत सरकार में युवाओं को नौकरी के अवसर उपलब्ध कराने का अभियान जोरों से जारी है। पहले की सरकारों में नौकरी के लिए विज्ञापन जारी होने से लेकर नियुक्ति पत्र देने तक बहुत लंबा समय लग जाता था। इस देरी का फायदा उठाकर उस दौरान रिश्वत का खेल भी जमकर होता था। हमने भारत सरकार में भर्ती की प्रक्रिया को अब पूरी तरह पारदर्शी बना दिया है। उन्होंने कहा कि इससे प्रत्येक युवा को अपनी क्षमताएं प्रदर्शित करने के समान अवसर प्राप्त हुए हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज हर युवा का मानना है कि वे कड़ी मेहनत और कौशल के साथ अपनी नौकरी की स्थिति को मजबूत कर सकते हैं। इस बात पर प्रकाश डालते हुए कि सरकार युवाओं को राष्ट्र के विकास में भागीदार बनाने का प्रयास करती है। उन्होंने बताया कि वर्तमान सरकार ने पिछले 10 वर्षों में पिछली सरकारों की तुलना में डेढ़ गुना अधिक युवाओं को नौकरियां दी हैं।

भारत दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा स्टार्टअप इकोसिस्टम

सरकार के प्रयासों से नए क्षेत्रों के खुलने और युवाओं के लिए रोजगार व स्वरोजगार के अवसर पैदा होने की बात करते हुए प्रधानमंत्री ने बजट में 1 करोड़ रूफटॉप सोलर प्लांट लगाने की घोषणा का जिक्र किया, जिससे परिवारों का बिजली बिल कम होगा और वे ग्रिड को बिजली की आपूर्ति करके पैसा कमाने में सक्षम होंगे। उन्होंने कहा कि इस योजना से लाखों नई नौकरियां भी पैदा होंगी। उन्होंने कहा कि आज भारत दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा स्टार्टअप इकोसिस्टम है। प्रधानमंत्री ने खुशी व्यक्त की कि इनमें से कई स्टार्टअप टियर 2 या टियर 3 शहरों से हैं। चूंकि ये स्टार्टअप नई नौकरियों के अवसर पैदा कर रहे हैं इसलिए नवीनतम बजट में स्टार्टअप्स के लिए कर छूट जारी रखने की घोषणा की गई है। प्रधानमंत्री ने बजट में रिसर्च और इनोवेशन को बढ़ावा देने के लिए घोषित 1 लाख करोड़ के फंड का भी जिक्र किया।

रेलवे में आया बड़ा परिवर्तन

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज रोजगार मेले के माध्यम से रेलवे में भर्ती भी हो रही है। उन्होंने कहा कि यात्रा के मामले में रेलवे आम लोगों की पहली पसंद है। भारत में रेलवे बड़े पैमाने पर बदलाव के दौर से गुजर रहा है और अगले दशक में इस क्षेत्र में पूर्ण बदलाव देखने को मिलेगा। उन्होंने कहा कि 2014 से पहले रेलवे पर ज्यादा ध्यान नहीं दिया गया था। लेकिन 2014 के बाद, रेलवे के आधुनिकीकरण और उन्नयन पर ध्यान केंद्रित करते हुए संपूर्ण ट्रेन यात्रा अनुभव को फिर से तैयार करने का अभियान शुरू किया गया था। उन्होंने कहा कि इस साल के बजट के तहत वंदे भारत एक्सप्रेस जैसी 40,000 आधुनिक बोगियां तैयार कर सामान्य ट्रेनों में जोड़ी जाएंगी, जिससे यात्रियों के लिए सुविधा और आराम बढ़ेगा।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.