घने कोहरे की चपेट में उत्तर भारत, IMD ने जारी किया रेट अलर्ट, ट्रेन-उड़ानें लेट; नोएडा-गाजियाबाद के स्कूल बंद!

New Delhi: दिल्ली, पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ में घने कोहरे का रेड अलर्ट जारी किया गया है। राजधानी में कोहरे की घनी चादर के कारण 100 से अधिक उड़ानों में देरी हुई। नोएडा-गाजियाबाद के स्कूल बंद।
Fog
Fog Social Media

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। उत्तर भारत के कई इलाके शीत लहर और कोहरे की मार झेल रहे हैं. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और उससे लगे इलाके भी कोहरे की चपेट में हैं. इसे देखते हुए गौतम बुद्ध नगर जिला प्रशासन ने 29 और 30 दिसंबर, 2023 को जिले के सभी स्कूलों को बंद करने का निर्देश दिया है। जिले के बेसिक शिक्षा अधिकारी राहुल पंवार ने आधिकारिक नोटिस जारी करके जानकारी दी है कि छात्र-छात्राओं के लिए स्कूल दो दिन बंद रहेंगे, हालांकि, शिक्षक और स्कूल कर्मचारियों की छुट्टी नहीं होगी।

इन राज्यों का हाल हुआ बेहाल

दिल्ली, पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ में घने कोहरे का रेड अलर्ट जारी किया गया है। राष्ट्रीय राजधानी में कोहरे की घनी चादर के कारण 100 से अधिक उड़ानों में देरी हुई। 28 दिसंबर को दिल्ली हवाई अड्डे पर लगभग 134 डोमेस्टिक और इंटरनेशनल फ्लाइट्स में देरी की सूचना मिली। नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर भी स्थिति अलग नहीं थी, जहां 22 ट्रेनें देरी से चलीं, जिससे यात्री कड़ाके की ठंड में फंसे रहे।

मौसम विभाग ने रेड अलर्ट किया जारी

मौसम विभाग द्वारा जारी एनएसएटी इमेजरी में उत्तर भारत में घने कोहरे की परत दिखाई दी, जिससे पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और उत्तर-पश्चिम मध्य प्रदेश के क्षेत्र प्रभावित हुए। इसका प्रभाव कम दृश्यता की स्थिति में स्पष्ट था, जिससे यातायात बाधित हुआ और दुर्घटनाएँ हुईं। आईएमडी ने अगले 5 दिनों तक हरियाणा, पंजाब में घने कोहरे की भविष्यवाणी करते हुए अपनी चेतावनी बढ़ा दी। उत्तर प्रदेश में अगले 3 दिनों तक घना कोहरा छाए रहने की आशंका है, जिसके चलते यूपी राज्य सड़क परिवहन निगम ने कम दृश्यता की स्थिति के दौरान बस संचालन के लिए दिशानिर्देश जारी किए हैं।

इतना है आज का AQI

दिल्ली में आज हवा की गुणवत्ता में मामूली सुधार देखा गया, औसत वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 356 पर रहा। मामूली राहत के बावजूद, अगले 2 दिनों तक हवा की गुणवत्ता "बहुत खराब" श्रेणी में रहने की उम्मीद है।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.