Parliament Attack: 'तानाशाही नहीं चलेगी' नारा लगाते हुए लोकसभा में कूदे दो युवक, सदन में फैलाया रंगीन धुआं

Lok Sabha Security Breach: संसद पर हमले की बरसी के दिन लोकसभा में हुई एक घटना से बुधवार को संसद में अफरा-तफरी का माहौल रहा। आज सदन में शून्यकाल के दौरान दो युवक दर्शक दीर्घा से सदन में कूद गए।
Lok Sabha Security Breach
Lok Sabha Security Breach

नई दिल्ली, (हि.स.)। संसद पर हमले की बरसी के दिन लोकसभा में हुई एक घटना से बुधवार को संसद में अफरा-तफरी का माहौल रहा। आज सदन में शून्यकाल के दौरान दो युवक दर्शक दीर्घा से सदन में कूद गए। उस समय भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सांसद खगेन मुर्मू अपनी बात रख रहे थे।

कार्यवाही के बीच नारा लगाते हुए कूदे दो लोग

बीएसपी के लोकसभा सांसद मलूक नागर ने ‘हिन्दुस्थान समाचार’ से बातचीत करते हुए बताया कि सदन में शून्यकाल का समय था। कार्यवाही चल रही थी। तभी दो लोग दर्शक दीर्घा से सदन में 'तानाशाही नहीं चलेगी' का नारा लगाते हुए कूद गए। उनके कूदने के दौरान वहां पर खड़ी सुरक्षाकर्मी महिला चोटिल हो गई।

सदन में रंगीन धुआं फैल गया

नागर ने कहा कि उन्हें लगा कि शायद दीर्घा से कोई नीचे गिर गया। वह और कुछ अन्य सांसद उसकी ओर दौड़े। जब तक वह उनके पास पहुंचे तब तक दोनों ने अपने जूते से कुछ निकाला और स्प्रे किया। उसके बाद सदन में रंगीन धुआं फैल गया। बकौल नागर उन्होंने सदन कूदने वाले को पकड़ रखा था। वह दोनों लगातार नारे बाजी कर रहे थे। इस दौरान कुछ सांसदों ने दोनों की पिटाई भी की।

उनके कूदने से सदन में अचानक अफरा-तफरी मची

सपा सांसद डिंपल यादव ने कहा कि उनके कूदने से सदन में अचानक अफरा-तफरी मची और रंगीन धुआं फैल गया। सभी सांसद इधर-उधर भागने लगे। सदन में फैले धुएं की वजह से लोगों को तकलीफ भी हुई। यह सामान्य घटना नहीं है। यह बड़ी सुरक्षा चूक है।

यह सुरक्षा में बड़ी चूक- सांसद कार्तिक चिदंबरम

कांग्रेस के लोकसभा सांसद कार्तिक चिदंबरम ने कहा कि यह सुरक्षा में बड़ी चूक है। इस मामले की गहन जांच होनी चाहिए। 13 दिसंबर, 2001 को संसद पर आतंकी हमला हुआ था। भाजपा के लोकसभा सांसद प्रताप चंद्र सारंगी ने कहा कि यह घटना सामान्य नहीं है। सदन में कूदने वाले लोग कहां से आए? कैसे आए? क्या कोई आतंकी संगठन से तो नहीं थे? ये कई सवाल खड़े होते हैं। मामले की गंभीरता से जांच होनी चाहिए।

दोनों को सुरक्षाकर्मियों को सौंप दिया गया

कांग्रेस सांसद गुरजीत सिंह औजला ने कहा कि उन्होंने कूदने वालों को सदन में सबसे पहले पकड़ा। कुछ ने इसकी पिटाई भी की। बाद में दोनों को सुरक्षाकर्मियों को सौंप दिया गया। उसके बाद लोकसभा अध्यक्ष ने सदन की कार्यवाही को दोपहर 2 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.