I.N.D.I Alliance
I.N.D.I AllianceRaftaar.in

I.N.D.I Alliance: कांग्रेस-आप के बीच 4 राज्यों में डील डन, दिल्ली में साथ-साथ तो पंजाब में अनबन

New Delhi: इंडिया गठबंधन के दो दल कांग्रेस और आम आदमी पार्टी ने आज सीट बंटवारे का ऐलान कर दिया है। दिल्ली में AAP 4 सीटों पर और कांग्रेस 3 सीटों पर लोकसभा चुनाव लड़ेगी।

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। राजधानी नई दिल्ली में आज कांग्रेस और आम आदमी पार्टी की संयुक्त प्रैस कॉन्फ्रेंस हुई। कांग्रेस और आम आदमी पार्टी ने आज आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर सीट बंटवारे पर सहमति जताई है। इसमें पंजाब छोड़कर दिल्ली, गोवा, गुजरात और हरियाणा के सीट बंटवारे का ऐलान कर किया है।

उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी के साथ कांग्रेस का सीट बंटवारा

दिल्ली में हुई संयुक्त प्रैस कॉन्फ्रेंस में AAP की ओर से आतिशी, संदीप पाठक और सौरभ भारद्वाज, वहीं कांग्रेस की ओर से ​​मुकुल वासनिक, दीपक बाबरिया और अरविंदर सिंह लवली प्रेस कॉन्फ्रेंस में शामिल हुए। इस दौरान कांग्रेस नेता ​​मुकुल वासनिक ने कहा- आज दिल्ली में कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के सीट गठबंधन का ऐलना हुआ और 2 दिन पहले उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी के साथ कांग्रेस का सीट बंटवारा हुआ।

दिल्ली

देश की राजधानी दिल्ली में कुल 7 लोकसभा सीटें हैं जिसमें से आम आदमी पार्टी 4 सीटों पर और कांग्रेस 3 सीटों पर चुनाव लड़ेगी।

आम आदमी पार्टी दिल्ली की इन 4 सीटों पर लड़ेगी चुनाव-

1. नई दिल्ली

2. दक्षिण दिल्ली

3. पश्चिम दिल्ली

4. पूर्वी दिल्ली

कांग्रेस दिल्ली की इन 3 सीटों पर लड़ेगी चुनाव-

1. चांदनी चौक

2. उत्तर-पूर्वी दिल्ली

3. उत्तर-पश्चिमी दिल्ली

गुजरात

गुजरात में लोकसभा की कुल 26 सीटें हैं जिसमें से कांग्रेस 24 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। वहीं आम आदमी पार्टी 2 सीटों पर चुनाव लड़ेगी।

आम आदमी पार्टी गुजरात में इन 2 सीटों पर लड़ेगी चुनाव

1. भरुच

2. भावनगर

हरियाणा

हरियाणा में लोकसभा की कुल 10 सीटें है जिसमें से 9 सीटों पर कांग्रेस चुनाव लड़ेगी और 1 सीट पर आम आदमी पार्टी चुनाव लड़ेगी। वहीं चंडीगढ़ में कांग्रेस अपने उम्मीदवार को उतारेगी।

आम आदमी पार्टी हरियाणा में इस सीट से लड़ेगी चुनाव

कुरुक्षेत्र

गोवा

सूत्रों के अनुसार, गोवा में साउथ गोवा की 1 सीट को छोड़कर बाकी सीटों पर कांग्रेस चुनाव लड़ सकती है।

पंजाब

आज तक की खबर के अनुसार, संयुक्त प्रैस कॉन्फ्रेंस में पंजाब का उल्लेख नहीं किया। पंजाब सत्ता में आम आदमी पार्टी का वर्चस्व है मुख्यमंत्री भगवंत मान पहले ही पंजाब में कांग्रेस के साथ गठबंधन न करने का जिक्र कर चुके हैं। ऐसे में आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पंजाब में अकेले चुनाव लड़ने का फैसला कर सकती है। कांग्रेस और आम आदमी पार्टी ने इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है। इससे साफ है कि दोनों पार्टियां पंजाब में एक-दूसरे को कड़ी टक्कर देंगी।

अपने-अपने सिंबल पर लड़ेंगे चुनाव

मुकुल वासनिक ने कहा कि वर्तमान में भारतीय लोकतंत्र के सामने खड़ी चुनौतियों से निपटने के लिए AAP-कांग्रेस ने एक साथ लोकसभा चुनाव लड़ने का फैसला किया है। उन्होंने कहा कि हम अपने-अपने सिंबल पर चुनाव लड़ेंगे, लेकिन एकजुट होकर लड़ेंगे और बीजेपी को हराएंगे।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.