New Delhi: मेधा और एक्सिस बैंक फाउंडेशन के सहयोग से गिग वर्क और नेटवर्किंग कार्यक्रम का हुआ आयोजन

New Delhi: अलग-अलग क्षेत्रों के फ्रीलांसरों और गिग प्रदाताओं ने कार्यक्रम में भागीदारी की, उबरते फ्रीलांसरों को मिला एक मंच
Medha and Axis Bank Foundation
Medha and Axis Bank Foundationraftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क।। मेधा और एक्सिस बैंक फाउंडेशन के सहयोग से फ्रीलांसर जैमिंग प्रोग्राम का आयोजन किया गया। जहां भारत के टियर 2 और टियर 3 शहरों से आए, युवा फ्रीलांसर्स ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया। इस इवेंट में फ्रीलांसरों के लिए बिजनेस नेटवर्किंग के भविष्य के अवसरों पर चर्चा की गई । कार्यक्रम का आयोजन ज़ोरबा द बुद्धा, नई दिल्ली में किया गया ।

कार्यकर्म की शुरुआत मेधा के सह संस्थापक ब्योमकेश मिश्रा ने किया

कार्यकर्म की शुरुआत ब्योमकेश मिश्रा, मेधा के सह संस्थापक, ने फ्रीलांसिंग दुनिया की बात चीत के साथ की, जहां उन्होंने इस मुहिम की शुरुआत कैसे हुई और आगे फ्रीलांस करियर के बड़े स्कोप की चर्चा की? उन्होंने यह भी कहा की कैसे देश का युवा अपने लिए नए करियर अवसर खोज रहा है? और अपने आस पास स्थानीय अर्थव्यवस्था में योगदान दे पा रहे हैं।

कार्यक्रम का समापन स्वरंभ से जुड़े सभी फ्रीलांस मेंटर्स को सर्टिफिकेट देके हुआ

इस कार्यक्रम के दौरान फ्रीलांसरों को उभरती फ्रीलांसिंग श्रेणी जैसे Fashion, IT, Content आदि के बारे में पता चला। स्पीड नेटवर्किंग के सत्र में फ्रीलांसरों को एक दूसरे से जुड़ने का मौका मिला  जहां वो अपने अपने काम के बारे में जान पाए । कार्यक्रम का समापन स्वरंभ से जुड़े सभी फ्रीलांस मेंटर्स को सर्टिफिकेट देके हुआ।

कार्यक्रम में दिल्ली समेत देशभर के अन्य शहरों से आए 80 फ्रीलांसर्स ने हिस्सा लिया

गौरतलब है कि यह अपने आप में ऐसा कार्यक्रम था जिसमें देशभर के गिग वर्कर्स, फ्रीलांसर्स और सोलोप्रेन्योर्स ने प्रतिभाग किया, और समय के साथ बदलते रोजगार विकल्पों, बाजार और अर्थव्यवस्था की जरूरतों पर अपने विचार प्रस्तुत किए। कार्यक्रम में दिल्ली एनसीआर और देशभर के अन्य शहरों से आए 80 फ्रीलांसर्स ने हिस्सा लिया।

प्रोग्राम का उद्देश्य युवाओं को उनके क्षेत्र में नए दौर के रोजगार विकल्पों तक पहुंचाना

मेधा के स्वारंभ प्रोग्राम ने सफलतापूर्वक टियर 2 और टियर 3 के युवाओं को फ्रीलांसिंग और गिग अर्थव्यवस्था के क्षेत्र में करियर बनाने में मदद की है। इस प्रोग्राम का उद्देश्य युवाओं को उनके क्षेत्र में नए दौर के रोजगार विकल्पों तक पहुंचाना है।

मेधा फउंडेशन का उद्देश्य युवाओं को फ्रीलांसिग और गिग अर्थव्यवस्था के क्षेत्र में प्रशिक्षण देना है

बता दें कि मेधा ने साल 2011 से उत्तर प्रदेश, हरियाणा और बिहार के युवाओं में रोजगारपरक शिक्षा और कौशल प्रशिक्षण के क्षेत्र में काम किया है और अब तक 85 हजार युवाओं के साथ काम किया है। मेधा वाराणसी और गाज़ियाबाद के विभिन्न कालेजों में एक्सिस बैंक फाउंडेशन के सहयोग से स्वारंभ प्रोग्राम का संचालन कर रही है, जिसका उद्देश्य युवाओं को फ्रीलांसिग और गिग अर्थव्यवस्था के क्षेत्र में प्रशिक्षण देना है।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.