सरकार के 'विकसित भारत' वाले व्हाट्सएप मैसेज पर चुनाव आयोग सख्त, लगाई रोक, IT मंत्रालय को दिया आदेश

EC On Vikasit Bharat Massages: चुनाव आयोग ने केंद्र सरकार द्वारा आम लोगों को भेजे जा रहे 'विकसित भारत' टाइटल वाले वॉट्सऐप संदेश पर सख्ती दिखाते हुए कार्रवाई की है।
EC On Vikasit Bharat Massages
EC On Vikasit Bharat MassagesRaftaar

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। लोकसभा चुनाव की तरीखों के ऐलान के बाद से चुनाव आयोग एक्शन मोड में नजर आ रहा है। आज आयोग ने केंद्र सरकार द्वारा आम लोगों को भेजे जा रहे 'विकसित भारत' टाइटल वाले वॉट्सऐप संदेश पर सख्ती दिखाते हुए कार्रवाई की है। चुनाव आयोग ने इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय को इसको लेकर एक नोटिस जारी कर दिया है। चुनाव आयोग का कहना है कि बीते कुछ दिनों से विकसित भारत नाम से भेजा जा रहा व्हाट्सएप मैसेज मोदी सरकार का चुनाव प्रचार कर रहा है। यह देश में लगी आचार संहिता का उल्लंघन है। इस लिए विकसित भारत से जुड़े संदेश को फ़ौरन रोका जाना चाहिए।

आयोग को कई शिकायतें मिली थीं

दरअसल, केंद्रीय चुनाव आयोग ने इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय को निर्देश देते हुए कहा की अगर आचार संहिता लगने के बाद भी लोगों के पास विकसित भारत से जुड़े संदेश जा रहे हैं तो उन पर फ़ौरन रोक लगे। साथ ही चुनाव आयोग को इस बाबत की गई कार्रवाई की जानकारी भी दी जाए। इस मामले को लेकर आयोग को कई शिकायतें मिली थीं कि आम चुनाव 2024 की घोषणा और आदर्श आचार संहिता लागू होने के बावजूद नागरिकों के फोन पर ऐसे संदेश अभी भी भेजे जा रहे हैं।

मंत्रालय ने दिया आयोग को जवाब

आयोग से निर्देश मिलने के बाद इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने कहा कि ये मैसेज आदर्श आचार संहिता लागू होने के पहले भेजे गए थे। हालांकि उनमें से कुछ प्रणालीगत और नेटवर्क सीमाओं के कारण संभवतः देरी से लोगों तक पहुंचे हैं। वहीं, आयोग ने मंत्रालय से इस मामले में तुरंत अनुपालन रिपोर्ट भेजने के लिए भी कहा है।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.