Delhi-NCR: स्कूलों को भेजा मेल निकला फर्जी; IP एड्रेस की हो रही जांच जानें क्या-क्या हुआ मेल आने के बाद...

केंद्रीय मंत्रायल ने की मेल से फर्जी होने की पुष्टि। समय पर सुरक्षा के कदम उठाने से परिजनों का डर हुआ कम। साइबर सेल आई.पी एड्रेस की तलाश में।
bomb threat sent to schools came out to be false
bomb threat sent to schools came out to be falseSocial Media

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। एक समाचार एजंसी के अनुसार, दिल्ली-एनसीआर के कई स्कूलों को बम से उड़ाने की धमकी मिली। यह धमकी ई-मेल के द्वारा दी गई। वहीं एक अन्य मीडिया रिपोर्ट के अनुसार यह ई-मेल करीब 100 स्कूलों को भेजा गया था। खबर मिलते ही पुलिस और प्रशासन हरकत में आया। साथ ही स्कूलों को खाली भी कराया गया। 40 से अधिक स्कूलों की जांच की जा चुकी है। लेकिन पुलिस और सुरक्षा एजंसियों के तुरंत हरकत में आते ही मामले को संभाल लिया गया और मेल फर्जी निकला।

किस-किस स्कूल को प्राप्त हुआ मेल

रिपोर्ट के अनुसार चाणक्यपुरी के संस्कृति स्कूल, मयूर विहार के मदर मैरी स्कूल, द्वारका और नोएडा के दिल्ली पब्लिक स्कूल, पुष्प विहार और साकेत के एमिटी इंटरनेशल स्कूल उन स्कूलों में शामिल है जिन्हें बम से उड़ाने की धमकी भरा ई-मेल प्राप्त हुआ। पुलिस के अनुसार, सुरक्षा की दृष्टि से स्कूलों को खाली करा कर बच्चों को वापस घर भेज दिया गया है।

क्या कहना है दिल्ली पब्लिक स्कूल का

दिल्ली पुलिस के अनुसार द्वारका के दिल्ली पब्लिक स्कूल में बम होने की सूचना प्राप्त हुई थी। जिसके बाद बम निरोधक दस्ता और फायर ब्रिगेड को मौके पर भेज दिया गया। सर्च ऑपरेशन अभी भी जारी है। दिल्ली पब्लिक स्कूल, नोएडा, के प्रिंसिपल ऑफिस द्वारा नोटिस जारी किया गया है कि स्कूल को बच्चों की सुरक्षा को खतरे में डालने वाला धमकी भरा ई-मेल मिला था। जिसके बाद सुरक्षा की दृष्टि से बच्चों को वापस घर भेज दिया गया है।

किस प्रकार से भेजा गया है मेल

शुरुआती जांच में ऐसा लग रहा है कि कल से अब तक कई जगहों पर मेल भेजा गया है और ये उसी पैटर्न पर लग रहा है। मेल में डेट लाइन का जिक्र नहीं है और BCC का जिक्र है, जिसका मतलब है कि एक ही मेल को कई जगहों पर भेजा गया है। दिल्ली पुलिस ने कहा, फिलहाल जांच की जा रही है।

नहीं है पैनिक करने की जरूरत

केंद्रीय मंत्रायल ने लोगो से अनुरोध किया है वे पैनिक ना करें। साथ ही स्कूलों को भेजी गई धमकी को फर्जी बताया। बता दें कि सुबह स्कूलों को मिले इस मेल के कारण स्कूल एडमिनिस्ट्रेशन और परिजनों में काफी टेंशन का माहौल पैदा हो गया था। जिससे दूर करने के लिए जल्द से जल्द स्कूलों को खाली कराया गया और प्रशासन हरकत में आया। पुलिस और सुरक्षा एजंसियां प्रोटोकॉल के सुरक्षा के सभी स्टेप्स ले रही हैं।

आई.पी एड्रेस देश के बाहर का

पुलिस और सुरक्षा एजंसियों का कहना है कि जिस आई.पी एड्रेस से मेल भेजा गया वह देश के बाहर का है वहीं तकनीक के जानकारों का यह भी कहना है कि वीपीएन की मदद से आई.पी एड्रेस को मास्क करके मेल भेजे जाने की भी संभावना है।

Related Stories

No stories found.