Delhi: JNU में देर रात मचा हंगामा, ABVP और Left के छात्रों के बीच खूनी झड़प, चले लाठी-डंडे, 3 घायल

New Delhi: JNU में गुरुवार रात जनरल बॉडी मीटिंग के दौरान मारपीट ABVP और Left के छात्रों के बीच मारपीट हुई। इस हमले में 3 छात्र घायल बताए जा रहे हैं।
Jawaharlal Nehru University
Jawaharlal Nehru University Raftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) में गुरुवार रात अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) और ऑल इंडिया स्टूडेंट्स एसोसिएशन (AISA) सहित लेफ्ट विंग के छात्रों के बीच हाथापाई हुई। इस हमले में 3 छात्र घायल हो गए। दोनों पक्षों ने डंडे, सरिया और लाठियों से एक-दूसरे पर हमला किया।

देर रात JNU में हंगामा

स्कूल ऑफ लैंग्वेज, लिटरेचर एंड कल्चरल स्टडीज में जनरल बॉडी मीटिंग (जीबीएम) के दौरान हुई हाथापाई में घायल हुए 3 छात्रों को सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया है। कथित घटना के एक वीडियो में छात्र एक-दूसरे पर लोहे के रॉड और लाठियां चला रहे हैं। एक दूसे को पीटते नजर आ रहे है। एक अन्य क्लिप में 1 छात्र दूसरे छात्र पर साइकिल फेंकते हुए दिखाई दिया। अन्य कथित वीडियो में एक समूह द्वारा छात्रों के साथ भीड़ते और पीटते हुए नजर आया। इसके बाद मौके पर JNU सुरक्षा कर्मियों ने उन्हें बचाने की कोशिश की।

AISA ने ABVP पर साधा निशाना

ABVP पर निशाना साधते हुए AISA ने अपने बयान में कहा- 'स्कूल ऑफ लैंग्वेजेज में जीबीएम के आखिरी दिन ABVP के गुंडों ने हमारे साथ हिंसादनक व्यवहार किया। चुनाव समिति के लिए चयन प्रक्रिया को बाधित करने का प्रयास करते हुए, ABVP ने छात्रों के खिलाफ शारीरिक हिंसा का सहारा लिया। जब JNU के छात्रों ने इसे विफल कर दिया तो उन्होंने लाठीबाजी की। इसके बाद ABVP आम छात्रों को निशाना बनाया और मारपीट शुरु की।

ABVP पर मुस्लिम छात्रों को बाहर करने का लगाया आरोप

AISA ने ABVP पर मुस्लिम छात्रों को बाहर करने का भी आरोप लगाया। “जब भी कोई मुस्लिम छात्र आगामी चुनाव समिति के लिए अपना नाम प्रस्तावित करता है तो वे इसका विरोध करते हैं। उन्होंने छात्रों को धमकाकर, लैंगिक और जातिवादी गालियां देकर स्कूल जीबीएम परिसर का माहौल भी खराब कर दिया।''

ABVP ने लेफ्ट पर हिंसा भड़काने का लगाया आरोप

ABVP ने इस घटना पर अपने बयान में कहा- जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय छात्र संघ (JNUSU) की अध्यक्ष आइशी घोष सहित कई व्यक्तियों का नाम लिया और उसपर "हिंसा भड़काने का आरोप लगाया। “समूह ने स्कूल ऑफ लैंग्वेज, लिटरेचर एंड कल्चरल स्टडीज में ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट जुड़े छात्रों पर अचानक हमला किया। कथित तौर पर घोष और उनके साथियों से जुड़े हमलावरों ने परिसर में हिंसा फैलाई। लेट विंग के छात्र शारीरिक रूप से विकलांग छात्रों पर भी अत्याचार करते हैं।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.