बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ यौन शोषण के आरोप तय, महिला पहलवानों ने लगाए थे आरोप

दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट ने बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ यौन शोषण के आरोप तय कर दिए हैं।
Brij Bhushan Saran singh
Brij Bhushan Saran singhRaftaar

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। भाजपा सांसद और रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया के पूर्व अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ आरोप तय कर दिए गए हैं। दिल्ली के राउज एवेन्यू कोर्ट ने IPC की तीन धाराओं में आरोप तय किए हैं। एडिशनल चीफ मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट प्रियंका राजपूत की अदालत ने ये आदेश दिया। मजिस्ट्रेट ने कहा कि उन्हें आरोप तय करने के लिए पर्याप्त सबूत मिले हैं। बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ छह महिला पहलवानों ने यौन शोषण के आरोप लगाए थे। इनमें से एक पहलवान के आरोपों को सबूत के अभाव में खारिज कर दिया गया।

कोर्ट ने कहा कि बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ दर्ज किए गए छह में से पांच मामलों में कोर्ट को चार्ज फ्रेम करने के लिए पर्याप्त सबूत मिले हैं। पांच मामलों में सिंह के खिलाफ IPC की धारा 354 (यौन शोषण), 354 D (पीछा करना) और 506 (आपाराधिक धमकी) के तहत आरोप तय करने का आदेश दिया।

कोर्ट ने WFI के पूर्व सचिव विनोद तोमर के खिलाफ भी आपराधिक धमकी से जुड़े आरोप तय करने के आदेश दिए। हालांकि, कोर्ट ने अपराध में साथ देने से जुड़े आरोपों को रद्द कर दिया।

जून 2023 में फाइल हुई थी चार्जशीट

इस मामले में दिल्ली पुलिस ने पिछले साल जून में चार्जशीट फाइल की थी। पुलिस की चार्जशीट में बृजभूषण शरण सिंह पर छह महिला पहलवानों के यौन शोषण और उनका पीछा करने का आरोप लगाया था। पुलिस ने इस मामले में 1500 पन्नों की चार्जशीट फाइल की थी, जिनमें 22 गवाहों के बयान भी दर्ज करवाए गए थे।

बीजेपी मेरे साथ खड़ी हैः बृजभूषण शरण सिंह

इस लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने कैसरगंज सीट से बृजभूषण शरण सिंह का टिकट काट दिया है। हालांकि, सिंह के बेटे को इस सीट से टिकट दिया गया है। इसी को लेकर समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत में सिंह ने कहा कि पार्टी ने साथ नहीं छोड़ा है और उनके पीछे खड़ी है। सिंह ने दावा किया कि बेटे को टिकट मिलना इस बात का सबूत है कि पार्टी उनके साथ खड़ी है।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.