Motion of Thanks: 'कांग्रेस आरक्षण विरोधी', 7 दशकों तक लोगों को रखा वंचित, राज्यसभा में बोले- PM मोदी

New Delhi: राज्यसभा में PM मोदी ने आज अपने कार्यकाल के अभिभाषण में राष्ट्रपति के अभिभाषण का धन्यवाद प्रस्ताव में जबाब देते हुए आरक्षण के मुद्दे पर कांग्रेस पर हमला किया।
PM Modi
PM Modi Raftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज राज्यसभा में राष्टपति के अभिभाषण का जबाव धन्यवाद प्रस्ताव के दौरान देते हुए कांग्रेस पर हमला किया। उन्होंने कांग्रेस के पिछले 7 दशकोंं के कार्य का उल्लेख करते हुए कहा कि कांग्रेस शुरुआत से ही आरक्षण विरोधी है। बाबा भीमराव अंबेडकर अगर न होते तो SC, ST और OBC आज आरक्षण से वंचित रहते। म

आरक्षण पर बोले PM मोदी

उन्होेंने कहा कि 21वीं सदी में अगर विकसित भारत बनाना है तो 20वीं सदी की सोच को छोड़ना होगा। गुलामी की मानसिकता से बाहर आना पड़ेगा। सबका साथ सबका विकास तभी होगा जब सभी एक साथ चलेंगे। उन्होंने देश के प्रथम प्रधानमंत्री पं जवाहर लाल नेहरु का याद करते हुए कहा कि "मैं नेहरु जी की ऑन रिकोर्ड चिट्ठी का अनुवाद करता हूं, पंडित नेहरु ने अपने कार्यकाल में देश के सभी मुख्यमंत्रियों को पत्र लिखा।" इसमें लिखा था- "मैं किसी भी आरक्षण को पसंद नहीं करता, नौकरियों में आरक्षण नहीं देना चाहिए। नौकरी में आरक्षण मिलने से काम का स्तर मिलेगा।" प्रधानमंत्री ने कांग्रेस की आरक्षण की मानसिकता को जन्मजात आरक्षण विरोधी बताया।

"आर्टिकल-370"

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि जम्मू-कश्मीर को 7 दशकों तक वंचित रखा। देश में रह रहे SC, ST और OBC की श्रेणी में रह रहे लोगों की तरह जम्मू-कश्मीर के SC, ST और OBC के लोगों को सरकार लाभ नहीं मिला, इन सबकी वजह "आर्टिकल-370" है। उन्होंने आगे कहा कि हमारी सरकार ने जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल-370 हटाया। देश के अन्य राज्यों के नागरिकों की तरह जम्मू-कश्मीर के लोगों को अधिकार दिया।

राष्ट्रपति का अपमान

प्रधानमंत्री मोदी ने राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू का उल्लेख करते हुए कहा कि " कांग्रेस ने देश की राष्ट्रपति का अपमान किया। क्योंकि कांग्रेस आदिवासियों से नफरत करती है।" देश में ऐसा पहली बार हुआ है जब देश की राष्ट्रपति का कांग्रेस ने इस तरह अपमान किया।

समाज कल्याण पर बोले PM मोदी

उन्होंने कहा कि 7 दशकों में गरीब समाज ने अपना पूरा जीवन झुग्गी-झोपड़ियों में बिताए। PM आवास योजना के तहत हमने लोगो को कच्चे से पक्के घर दिए। आज लोगों के सिप पर छत है। गांवों में रहने वाली महिलाएं जो काले धुएं से जूंझ रही थी उनको हमने उज्जवला योजना के तहत गैस सिलेंडक दिए।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.