Chandigarh Mayor Election: चंडीगढ़ मेयर चुनाव में हार कर जीती BJP, जानें कैसे हुआ ये खेला?

New Delhi: चंडीगढ़ मेयर चुनाव का आज परिणाम घोषित हुआ। जिसमें BJP ने शानदार जीत दर्ज कराई। इंडिया गठबंधन की जोड़ी AAP और Congress के बीच बवाल मच गया। Add- Chandigarh Mayor Election
Chandigarh Mayor Election
Chandigarh Mayor ElectionRaftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। चंडीगढ़ में आज चंडीगढ़ मेयर चुनाव का आज परिणाम आने पर सबको चौंका दिया है। जहां इंडिया गठबंधन की जोड़ी AAP और Congress अपनी जीत का दावा कर रही थी। वहीं, AAP की सत्ता में रहते हुए BJP ने शानदार जीत दर्ज कराई। BJP नेता और निगम पार्षद मनोज सोनकर चंडीगढ़ के अगले मेयर बनेंगे।

इंडिया गठबंधन का बिगड़ा रिश्ता

इंडिया गठबंधन में शामिल AAP और Congress के सुर अब बदल गए हैं पहले दोनों में जहां दोनों पार्टियां दोस्ती में डूबी थी वहीं अब एक-दूसरे पर हार का इलजाम एक-दूसरे के सिर पर डाल रहे हैं। चंडीगढ़ मेयर चुनाव का परिणाम आने के बाद दोनों पार्टियों में जमकर हंगामा हुआ।

अरविंद केजरीवाल ने दी प्रतिक्रिया

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक्स पर पोस्ट डाला और कहा कि चंडीगढ़ मेयर चुनाव में दिन दहाड़े जिस तरह से बेईमानी की गई है, वो बेहद चिंताजनक है। यदि एक मेयर चुनाव में ये लोग इतना गिर सकते हैं तो देश के चुनाव में तो ये किसी भी हद तक जा सकते हैं। ये बेहद चिंताजनक है।

BJP ने कैसे मारी मात?

चंडीगढ़ नगर निगम में कुल 35 पार्षद हैं, और एक सीट चंडीगढ़ के सांसद की कुल हो गई 36 पार्षद की सीटें। चंडीगढ़ नगर निगम में BJP के कुल पार्षद 14 हैं चुनाव में शिरोमणि अकाली दल ने BJP को समर्थन दिया। इस समय चंडीगढ़ की सांसद BJP नेता किरण खेर हैं। इन सबका वोट मिलाकर BJP के कुल वोट 16 हुए। जीतने के लिए कुल वोट चाहिए 19 अब हुआ यूं कि AAP और Congress ने मिलकर गठबंधन में चुनाव लड़ा।

AAP के पास कुल पार्षदों की सीट थी 13 और Congress के पास 7 पार्षद। कुल मिलाकर होता है 20 दोनों मिलकर आराम से ये चुनाव जीत सकती थी। चुनाव से पहले दोनों पार्टियों ने अपनी जीत का दावा किया। चंडीगढ़ नगर निगम चुनाव के समय 20 में से 8 पार्षदों के वोट रिजेक्ट हो गए। अब 20 में से बचे 12 वोट। BJP के पास कुल वोटों की संख्या थी 16 और इंडिया गठबंधन के 12 वोट। बड़ी ही आसानी से BJP ने इंडिया गठबंधन को मात देकर चुनाव लड़ा।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.