ECI का बड़ा फैसला, मतदाताओं को अपने अधिकार के प्रति जागरूक करने के लिए बैंकों और डाकघरों के साथ किया एमओयू

Election Commmission: ईसीआई ने आगामी आम चुनाव से पहले मतदाता पहुंच और जागरूकता प्रयासों को बढ़ाने के लिए भारतीय बैंक संघ (आईबीए) और डाक विभाग के साथ एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए हैं।
Chief Election Commissioner Rajeev Kumar and Election Commissioner Arun Goyal
Chief Election Commissioner Rajeev Kumar and Election Commissioner Arun Goyalraftaar.in

नई दिल्ली, (हि.स.)। चुनाव आयोग (ईसीआई) ने आगामी आम चुनाव से पहले मतदाता पहुंच और जागरूकता प्रयासों को बढ़ाने के लिए भारतीय बैंक संघ (आईबीए) और डाक विभाग (डीओपी) के साथ एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए हैं।

लोकसभा चुनावों से पहले मतदाता शिक्षा और पहुंच बढ़ाने में मदद करेंगे

बैंक और डाकघर चुनाव आयोग को 2024 के लोकसभा चुनावों से पहले मतदाता शिक्षा और पहुंच बढ़ाने में मदद करेंगे। आयोग का संदेश देश भर में 1.6 लाख बैंक शाखाओं, 2 लाख से अधिक एटीएम और 1.55 लाख डाकघरों के माध्यम से व्यापक जनता तक पहुंचेगा।

चुनावी जागरूकता बढ़ाने के लिए आयोग निरंतर प्रयास करता रहता है

उल्लेखनीय है कि देश में चुनावी जागरूकता बढ़ाने के लिए आयोग निरंतर प्रयास करता रहता है। हाल ही में स्कूलों और कॉलेजों के शैक्षिक पाठ्यक्रम में चुनावी साक्षरता को औपचारिक रूप से जोड़ने के लिए आयोग ने शिक्षा मंत्रालय के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए थे।

मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार की उपस्थिति में समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर

मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार और चुनाव आयुक्त अरुण गोयल की उपस्थिति में आज समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए। इस अवसर पर डाक विभाग के सचिव विनीत पांडे, आईबीए के मुख्य कार्यकारी सुनील मेहता और अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

जनहित में मतदाता शिक्षा को बढ़ावा देने में सहायता प्रदान करेंगे

एमओयू के तहत आईबीए और डीओपी अपने सदस्यों और संबद्ध संस्थानों व इकाइयों के साथ अपने व्यापक नेटवर्क के माध्यम से जनहित में मतदाता शिक्षा को बढ़ावा देने में सहायता प्रदान करेंगे। नागरिकों को उनके चुनावी अधिकारों, प्रक्रियाओं और कदमों के बारे में जानकारी के साथ सशक्त बनाने के लिए विभिन्न कदम उठायेंगे।

यह चुनाव आयोग का बहुत ही सराहनीय कार्य है। इससे पहले भी विधार्थियों में चुनावी साक्षरता के लिए चुनाव आयोग ने अहम फैसले लिए थे। हाल ही में स्कूलों और कॉलेजों के शैक्षिक पाठ्यक्रम में चुनावी साक्षरता को औपचारिक रूप से जोड़ने के लिए आयोग ने शिक्षा मंत्रालय के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए थे।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.