Delhi News: अरविंद केजरीवाल आज हो सकते हैं गिरफ्तार, दिल्ली सरकार के मंत्री ने ट्वीट करके जताई आशंका

Delhi News: आम आदमी पार्टी (आप) ने दावा किया है कि उन्हें जानकारी मिली है कि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा उनके आवास पर छापेमारी के बाद दिल्ली के CM केजरीवाल को गुरुवार सुबह गिरफ्तार किया जा सकता है।
Arvind Kejriwal
Arvind Kejriwalraftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। आम आदमी पार्टी (आप) ने दावा किया है कि उन्हें जानकारी मिली है कि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा उनके आवास पर छापेमारी के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री और पार्टी सुप्रीमो अरविंद केजरीवाल को गुरुवार सुबह गिरफ्तार किया जा सकता है। कथित दिल्ली शराब नीति 'घोटाले' में ईडी द्वारा पेश होने के लिए केजरीवाल को जारी किए गए तीसरे समन में केजरीवाल शामिल नहीं हुए जिसके बाद पार्टी नेताओं आतिशी, सौरभ भारद्वाज और जैस्मीन शाह ने ये दावे किए।

आतिशी ने ट्वीट किया

आतिशी ने बुधवार रात ट्वीट किया, "खबर आ रही है कि ईडी कल सुबह अरविंद केजरीवाल के आवास पर छापा मारने जा रही है। गिरफ्तारी की संभावना है।" आतिशी ने लोकसभा चुनाव नजदीक आने पर केजरीवाल को समन जारी करने की ईडी की मंशा पर मीडिया के सामने सवाल उठाया। उन्होंने कहा, "केजरीवाल ईडी द्वारा पूछे गए हर सवाल का जवाब देने के लिए तैयार हैं। पिछले दो हफ्तों में केजरीवाल को तीन समन जारी किए गए हैं। ईडी लिखित में सवाल नहीं दे रहा है।"

इसी तरह के ट्वीट आतिशी के सहयोगियों भारद्वाज और शाह ने भी किए

इसी तरह के ट्वीट आतिशी के सहयोगियों भारद्वाज और शाह ने भी किए। भारद्वाज ने बुधवार रात एक्स पर पोस्ट किया, "सुनने में आ रहा है कल सुबह मुख्यमंत्री केजरीवाल जी के घर ED पहुँच कर उन्हें गिरफ़्तार करने वाली है ।" (Jasmine Shah)शाह ने एक्स पर यह भी लिखा, "ब्रेकिंग: सूत्रों ने पुष्टि की है कि ईडी कल सुबह सीएम अरविंद केजरीवाल के आवास पर छापा मारने जा रही है। उन्हें गिरफ्तार किए जाने की संभावना है।"

चुनाव प्रचार करने से रोकना चाहती है

केजरीवाल को ईडी ने बुधवार को उत्पाद शुल्क नीति से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में पूछताछ के लिए बुलाया था। AAP ने समन को ignore किया और जांच एजेंसी को जवाब भेजकर कहा कि वह जांच में सहयोग करने के लिए तैयार हैं। हालाँकि, उन्होंने नोटिस को "अवैध" बताया। आप ने आरोप लगाया कि ईडी दिल्ली के मुख्यमंत्री को गिरफ्तार करना चाहती है और उन्हें चुनाव प्रचार करने से रोकना चाहती है। पिछले साल 2 नवंबर और 21 दिसंबर को दो पूर्व समन पर जांच एजेंसी के सामने पेश होने से इनकार करने के बाद केजरीवाल को यह तीसरा नोटिस जारी किया गया था।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.