Handicap लोगों के लिए बड़ी खुशखबरी, दिल्ली सरकार दिव्यांगजनों को देगी कान की मशीन और स्मार्ट छड़ी

केजरीवाल सरकार की सुगम्य सहायक योजना के तहत दिव्यांगजनों को मोटर और हाथ से चलने वाली व्हीलचेयर और ट्राई-साइकिल दी जाएंगी।
सरकार जल्द देने जा रही है दिव्यांगजनों को काम में आने वाले उपकरण
सरकार जल्द देने जा रही है दिव्यांगजनों को काम में आने वाले उपकरण

नई दिल्ली, हिन्दुस्थान समाचार। केजरीवाल सरकार दिव्यांगजनों को समाज की मुख्यधारा में लाने के लिए उनके आवागमन को आसान बनाने की दिशा में काम कर रही है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में सुगम्य सहायक योजना को मंजूरी मिलने के बाद इस पर तेजी से कार्य शुरू हो गया है। समाज कल्याण विभाग ने “सुगम्य सहायक योजना” के तहत दिव्यांगों को दिए जाने वाले उपकरणों की सूची तैयार कर ली है। समाज कल्याण विभाग जल्द ही एलिम्को के साथ एमओयू पर हस्ताक्षर करेगा, जिसके बाद योजना को क्रियान्वित करते हुए इसे जनता के बीच लाया जाएगा।

दिव्यांगजनों को बांटे जाने वाले उपकरणों की दिखाई गई प्रेजेंटेशन

समाज कल्याण मंत्री राज कुमार आनंद की विभाग के अधिकारियों के साथ हुई सोमवार को बैठक में दिव्यांगजनों को बांटे जाने वाले उपकरणों की प्रेजेंटेशन दिखाई गई। इस दौरान समाज कल्याण मंत्री ने उपकरणों को दिव्यांगजनों के लिए और अधिक सुविधानजक बनाने की दिशा में कई महत्वपूर्ण सुझाव दिए।

कान की मशीन व व्हीलचेयर जैसे 20 प्रकार के जरूरी उपरकरण जाएंगे बांटे

उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में दिल्ली सरकार दिव्यांगजनों के हित में कार्य करते हुए “सुगम्य सहायक योजना” के तहत दिव्यांगों को मोटरचलित ट्राई-साइकिल, स्मार्ट छड़ी, कान की मशीन व व्हीलचेयर जैसे 20 प्रकार के जरूरी उपरकरण बांटेगी।

कई तरह के आधुनिक उपकरण दिए जाएंगे दिव्यांगजनों को

केजरीवाल सरकार की सुगम्य सहायक योजना के तहत दिव्यांगजनों को मोटर और हाथ से चलने वाली व्हीलचेयर और ट्राई-साइकिल दी जाएंगी। इसके अलावा आर्टिफिशियल लिम्ब्स, छड़ी, कान की मशीन, बैसाखी, घूमने वाला बेंत, वॉकर और रोलर, फोल्डिंग एक्टिव व्हीलचेयर, फुट केयर यूनिट और नेत्रहीनों के लिए स्मार्ट बेंत व शॉर्टहैंड मशीन बांटे जाएंगे।

दिव्यांगजनों को आवगमन में मिलेगी सहूलियत

इन उपकरणों की मदद से दिव्यांगजनों की कार्य क्षमताओं में वृद्धि होगी। इस तरह के उपकरण मिलने से दिव्यांगजनों को आवगमन में सहूलियत मिलेगी। उन्हें कहीं भी आने-जाने में होने वाली समस्याओं से निपटने में यह उपकरण मददगार साबित होंगे। दिल्ली सरकार का उद्देश्य है कि दिव्यांगजनों को हर संभव मदद कर उनको समाज की मुख्यधारा में लाया जाए। इन उपकरणों की मदद से दिव्यांजगनों को शिक्षा और रोजगार पाने की उनकी क्षमताओं को भी बढ़ावा मिलेगा।

ऐसी ही अन्य खबरों के पढ़ने के लिए www.raftaar.in पर जाएं

Related Stories

No stories found.