नए संसद भवन को नड्डा ने बताया 'आजाद भारत की यात्रा में मील का पत्थर'

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि नई संसद स्वतंत्र भारत की यात्रा में मील का पत्थर है, यह देश की संस्कृति और परंपरा का प्रतीक है।
भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा
भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा

नई दिल्ली, रफ्तार न्यूज डेस्क। नए संसद भवन के उद्घाटन के लिए लगभग सभी तैयारियां कर ली गई हैं। रविवार यानी 28 मई को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नए संसद का उद्घाटन सेंगोल स्थापित करने के साथ करेंगे। इसी बीच भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि नई संसद स्वतंत्र भारत की यात्रा में मील का पत्थर है, यह देश की संस्कृति और परंपरा का प्रतीक है।

नई संसद का निर्माण स्वतंत्र भारत की यात्रा में मील का पत्थर

नड्डा ने ट्वीट कर कहा, 'नया संसद भवन स्वतंत्र भारत की यात्रा में एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर है। यह संसद भवन केवल एक वास्तुशिल्प उपकरण नहीं है, बल्कि यह वास्तव में भारत की जीवंत संस्कृति और विरासत की भावना का प्रतीक है।'

उन्होंने आगे कहा कि यह भारत के लोगों के लिए एक सम्मान है, जिन्होंने लोकतंत्र के मूल्य को लगातार बनाए रखा है। यह प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के दूरदर्शी नेतृत्व में भारत को एक विकसित राष्ट्र बनाने के लिए हमारे देशवासियों के संकल्प का प्रतिनिधित्व करता है।

नया संसद भवन भारत के लोकतंत्र का है प्रतीक

केंद्रीय मंत्री राजीव चंद्रशेखर ने कहा कि भारत को पहली संसद मिल रही जो अंग्रेजों द्वारा नहीं बनाई गई, जो भारत के लोकतंत्र का प्रतीक है, उसका जब उद्घाटन हो रहा है, उस समय विपक्षी दल उस कार्यक्रम से बाहर रहने का सोच रहे हैं। कौन सांसद उस पहली भारतीय संसद के जश्न में शामिल नहीं होना चाहेंगे जो भारत के इतिहास में अंग्रेजों द्वारा नहीं बनाई गई। मैं मानता हूं कि यह क्षुद्र राजनीति है।

Related Stories

No stories found.