टिकट कटने से नाराज केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे, बोले- बक्सर में मैं ही रहूंगा, षडयंत्रकारी को चुनाव के बाद..?

Buxar Lok Sabha seat: अश्विनी चौबे ने अपने बयान के माध्यम से बीजेपी के लिए मुसीबत खड़ी कर दी है। उन्होंने कहा है कि वह बक्सर में ही रहेंगे।
Ashwini Choubey
Ashwini Choubeyraftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। बिहार की बक्सर लोकसभा सीट पर सभी की नजरे बनी हुई है। दरअसल भाजपा की केंद्रीय चुनाव समिति ने बक्सर लोकसभा सीट से वर्तमान सांसद और केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे का इस बार टिकट काट दिया है। इसको लेकर अश्विनी चौबे ने अपने बयान के माध्यम से बीजेपी के लिए मुसीबत खड़ी कर दी है। उन्होंने कहा है कि वह बक्सर में ही रहेंगे।

अश्विनी चौबे का सोशल मीडिया में एक वीडियो काफी वायरल हो रहा है

केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे का सोशल मीडिया में एक वीडियो काफी वायरल हो रहा है। जिसमे वह कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए यह कहते हुए दिखाई दे रहे हैं कि अभी नामांकन बाकि है। बहुत कुछ होने वाला है। किसने क्या समझा, नहीं समझा, मुझे पता नहीं, लेकिन हां कुछ षडयंत्रकारी थे जो चुनाव के बाद नंगे होंगे। अश्विनी चौबे अपनी यह बात पूरी करते हुए कहते है कि जो भी होगा मंगलमय होगा।

मिथिलेश तिवारी बिहार के गोपालगंज जिले के निवासी है

भाजपा की केंद्रीय चुनाव समिति ने केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे का बक्सर लोकसभा से टिकट काटकर मिथिलेश तिवारी को दे दिया है। मिथिलेश तिवारी बिहार के गोपालगंज जिले के निवासी है। वहीं बिहार में महागठबंधन ने बक्सर लोकसभा सीट से बिहार के पूर्व मंत्री सुधाकर सिंह को अपना प्रत्याशी बनाया है। वह RJD के नेता हैं। महागठबंधन में सीट बंटवारे में बक्सर लोकसभा की सीट RJD के पाले में आयी है। जिस पर पार्टी ने अपना प्रत्याशी सुधाकर सिंह को बनाया है।

अश्विनी चौबे बिहार की बक्सर लोकसभा से बीजेपी के टिकट पर दो बार जीते हैं

भाजपा की केंद्रीय चुनाव समिति ने पार्टी में कई नेताओं का टिकट काटा है। लेकिन पार्टी में कई ऐसे भी नेता हैं जो टिकट कटने के बाद भी पार्टी के द्वारा उनको दी गयी अन्य जिम्मेदारी को निभाने में लगे हुए हैं। वहीं कुछ नेताओं में टिकट काटने से नाराजगी भी है। अश्विनी चौबे की नाराजगी भी टिकट कटने के बाद ही सामने आयी है। वह बिहार की बक्सर लोकसभा से बीजेपी के टिकट पर दो बार जीते हैं।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.