Manish Kashyap: शिक्षा मंत्री केके पाठक पर भड़के मनीष कश्यप, गुस्से में दिया ये चैलेंज; जानें क्या है मामला?

Patna News: हाल में जेल से निकले बिहार के फेमस यूट्यूबर मनीष कश्यप ने बिहार शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक पर गुस्सा निकाला है। उन्होंने जातिगणना पर भी सवाल उठाए।
KK Pathak 
Manish Kashyap
KK Pathak Manish KashyapRaftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। बिहार के फेमस यूट्यूबर मनीष कश्यप ने एक बार फिर अपने विवादित बयान से लोगों का ध्यानकेंद्रित किया है। इस बार उन्होंने बिहार के शिक्षा मंत्री केक पाठक को सवालों के घेरे में लिया है। उन्होंने पूछा कि "बिहार में शिक्षा और स्वास्थय के मुद्दों पर उन्होंने कड़वे सवालों से युवाओं में जोश भरा।

मनीष कश्यप शिक्षा मंत्री से पूछे सवाल

पटना में युवाओं को संबोधित करते हुए मनीष कश्यप ने बोला कि "काहे जिला शिक्षा पदाधिकारी को सस्पेंड किए? खाली टीचर पर गुस्सा दिखाइएगा। अरे पत्ता हिलाने से कुछ नहीं होगा केके पाठक जी। जड़ में यहां दीमक लगा हुआ है। यहां यूरिया खाद पोटाश जो डालना है डालिए। काहे जिला शिक्षा पदाधिकारी को सस्पेंड किए?" हमें पाठक जी का तरीका बहुत पसंद है, लेकिन वो पटना के डीएम से लड़े वो गलत था, वहां पाठक जी गलत थे। उस डीएम का निर्णय सही था।

शिक्षा मंत्री को दिया चैलेंज

मनीष कश्यप ने आगे कहा कि "पाठक जी हम आपका पूजा करेंगे, जब आप पूरे बिहार के कम से कम 4 जिला शिक्षा पद अधिकारी को सस्पेंड कीजिएगा तब, वरना हम आपको नहीं मानेंगे। मनीष कश्यप ने कहा- "अरे भ्रष्टाचार शिक्षा विभाग में वहीं से शुरु होता है और स्वास्थय विभाग का सुपरिंटेंडेंट से शुरु होता है, और सस्पेंड करते हैं चपरासी को।"

मनीष कश्यप ने दिया संदेश

मनीष कश्यप ने स्टेज पर हाथों में दो मालाएं थामकर जिला शिक्षा पद अधिकारी और सुपरिंटेंडेंट से अपील करते हुए कहा कि "ये माला आप लोगो के लिए है, अच्छा काम कीजिए। इस देश के और बिहार के लोग, भोले-भाले गरीब सब आपका सम्मान करेंगे, ये फूल की माला चढ़ाएंगे।" अगर आप लोग सही से काम नहीं करेंगे तो हम सभी लोग मिलकर संवैधानिक तरीके से शिव तांडव करेंगे।

जातिगत गणना का मांगा डाटा

इस दौरान मनीष कश्यप ने जातिगणना का भी सरकार से डाटा मांगा और कहा- कीजिए जातिगणना, कौन जात के लोग सरकारी अस्पताल में इलाज कराने जाते हैं और कौन जात का बच्चा सबसे ज्यादा सरकारी स्कूल में पढ़ने जाता है। ये डाटा हमें मिलना चाहिए।

इस मामले में मनीष कश्यप गए थे जेल

मनीष कश्यप बिहार में सामाजिक मुद्दों की आवाज उठाने के लिए जाने जाते हैं, मनीष कश्यप पर तमिलनाडु में प्रवासी श्रमिकों पर हमलों को दर्शाने वाली फर्जी रिकॉर्डिंग वायरल करने का आरोप लगा था। मनीष कश्यप पर NSA भी लगाया गया जिसे बाद में कोर्ट ने हटा लिया था। अभी फिलहाल उन्हें जमानत मिल गई है।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in 

Related Stories

No stories found.