panchayatwar-camp-to-be-organized-to-promote-vaccination-campaign
panchayatwar-camp-to-be-organized-to-promote-vaccination-campaign

टीकाकरण अभियान को बढ़ावा देने के लिए लगाया जाएगा पंचायतवार शिविर

बेगूसराय, 27 मई (हि.स.)। कोविड-19 संक्रमण के खिलाफ जिले में लगातार चल रहे टीकाकरण अभियान को और बढ़ावा दिया जाएगा। ताकि जिले के सुगम से लेकर दुर्गम इलाके में स्थित प्रत्येक गांव के शत-प्रतिशत लोगों का टीकाकरण सुनिश्चित हो सके और इस महामारी को जड़ से खत्म किया जा सके। इसके लिए पंचायतवार टीकाकरण शिविर का आयोजन करने का निर्णय लिया गया है। जिसके माध्यम से पंचायतवार टीकाकरण शिविर का आयोजन कर लोगों को टीका दिया जाएगा। इसको लेकर राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक मनोज कुमार ने पत्र जारी कर सिविल सर्जन को आवश्यक निर्देश दिए हैं और इसे हाल में सुनिश्चित कराने को कहा गया है। ताकि एक भी व्यक्ति टीका लेने से वंचित नहीं रहें और लोगों को सुविधाजनक तरीके से टीका दी जा सके। सभी चिकित्सा पदाधिकारी को दिए गए हैं आवश्यक निर्देश- जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. गोपाल मिश्रा ने बताया कि पत्र मिलने के साथ ही जिले के सभी पीएचसी, सीएचसी, रेफरल एवं अनुमंडलीय अस्पताल समेत सभी स्वास्थ्य संस्थानों के चिकित्सा पदाधिकारी को आवश्यक निर्देश दिए गए हैं। इसे हर हाल में सुनिश्चित कराने को कहा गया है, ताकि जल्द से जल्द शत-प्रतिशत लोगों का टीकाकरण हो सके और लोग खुद को सुरक्षित महसूस कर सकें। उन्होंने बताया कि लोगों को टीका लेने में किसी प्रकार की परेशानी का सामना नहीं करना पड़े, इसका विशेष ख्याल रखा जाएगा। लोगों का सुविधाजनक तरीके से टीकाकरण हो, सरकार द्वारा इसलिए यह निर्णय लिया गया है। इससे ना सिर्फ लोगों का सुविधाजनक तरीके से टीकाकरण होगा। बल्कि, टीकाकरण अभियान को भी गति मिलेगी। पंचायतों में 45 से अधिक आयु वर्ग को लगेगा टीका- टीकाकरण अभियान को बढ़ावा देने के लिए आयोजित होने वाले पंचायतवार शिविर में 45 वर्ष एवं इससे अधिक उम्र वाले सभी लोगों का टीकाकरण होगा। ताकि इन आयु वर्ग के लोगों को वैक्सीन लेने के लिए गांव से बाहर नहीं जाना पड़े और गांव में ही आसानी के साथ टीका ले सकें। इसके लिए इन आयु वर्ग के सभी लोगों का स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा ऑन द स्पॉट रजिस्ट्रेशन कर वैक्सीन दी जाएगी। आवश्यकतानुसार होगा सत्र का आयोजन- पंचायतवार टीकाकरण के दौरान आवश्यकतानुसार यानी आबादी के अनुरूप टीकाकरण सत्र का आयोजन कर लोगों को टीका दिया जाएगा। यानी जहां जितनी आबादी और जरूरी होगी उतने सत्र का आयोजन होगा। ताकि हर हाल में शत-प्रतिशत लोगों का टीकाकरण हो सके। इस दौरान स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा लोगों टीकाकरण कराने एवं इस घातक महामारी से बचाव के लिए जागरूक भी जाएगा। ताकि लोगों के मन में टीका को लेकर किसी प्रकार की दुविधा नहीं हो। पूरी तरह सुरक्षित और प्रभावी है टीका- डॉ. गोपाल मिश्रा ने बताया कि कोविड-19 का टीका ना सिर्फ पूरी तरह सुरक्षित है, बल्कि काफी प्रभावी भी है। इससे किसी प्रकार का गंभीर साइड इफेक्ट नहीं होता है, प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होती है। इतना ही नहीं, टीकाकरण के दौरान सुरक्षा के मद्देनजर हर मानकों का ख्याल भी रखा जाता है। इसलिए, सुरक्षा के दृष्टिकोण किसी प्रकार की दुविधा में नहीं रहें और पूरी तरह निर्भीक होकर टीकाकरण कराएं और दूसरों को भी प्रेरित करें। हिन्दुस्थान समाचार/सुरेन्द्र

Related Stories

No stories found.