migrant-laborers-benefiting-from-cm39s-dream-project-jal-jeevan-hariyali
migrant-laborers-benefiting-from-cm39s-dream-project-jal-jeevan-hariyali

सीएम के ड्रीम प्रोजेक्ट जल जीवन हरियाली से लाभान्वित हो रहे प्रवासी मजदूर

-मजदूरों ने कहा नमक रोटी खायेगें लुधियाना - पंजाब नहीं जायेंगे बगहा, 24मई(हि.स.)। बगहा प्रखंड एक के चन्द्रहा - रुपवलिया पंचायत में मनरेगा योजना के तहत रोजगार मिलने से मजदूरों में खुशी का माहौल देखा जा रहा है। मजदूर वहां कह रहें हैं कि घर पर ही रह कर नमक रोटी खायेगें लेकिन मजदूरी करने के लिए अब दिल्ली-पंजाब नहीं जायेंगे। दिल्ली, पंजाब सरकार द्वारा लॉकडाउन लागू करने पर किसी तरह दुख दर्द झेलते हुए घर पहुंचे मजदूर रोजी रोटी की तलाश में जुट गये,इस दौरान प्रखंड बगहा एक के चन्द्रहा-रुपवलिया पंचायत के विभिन्न वार्डों मे प्रवासी मजदुरो को बिहार सरकार से रोजगार मुहैया कराने से मजदुरों में काफी हर्ष है। उक्त पंचायत के पंचायत समिति सदस्य सर्वजीत पटेल ने बताया कि प्रवासी मजदुरो को सुबे की मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के ड्रीम प्रोजेक्ट जल जीवन हरियाली योजना के तहत मजदुरो को रोजगार मुहैया की जा रही है। उन्होंने बताया कि पंचायत के वार्ड नं 1 , 2 , 3 , 5, 7 में मनरेगा योजना के तहत हरहा पईन की सफाई कराई जा रही है। जिससे मजदूर मजदुरी कर परिवार का जीविका पार्जन कराने मे जूट गए हैं। प्रवासी मजदूर सतयुग साह, जगदीश महतो, कमलेश साह, राजेन्द्र पटेल, मकसुदन साह, मिथिलेश ठाकुर समेत दर्जनों की संख्या में मजदुरो ने बताया कि लॉक डाउन लग जाने से कोरोना काल वैश्विक महामारी में वे भुखमरी के कगार पर खड़े हो गये थे। घर में एक वक्त की रोटी नहीं थी। आर्थिक स्थिति दयनीय हो चली थी। घर से निकलना मुश्किल हो गया था , रोजगार की तलाश जारी थी। सरकार ने प्रवासी मजदुरों को रोजगार दिलाने को लेकर उक्त पंचायत में मनरेगा योजना के तहत कार्य बीडीसी के नेतृत्व में शुरु कराई गई, जिससे रोजगार मिल रहा है। तथा परिवार का भरण पोषण शुरु है । ग्रामीण सह समाजसेवी मनोज पटेल, अखिलेश सिंह, राबुल आलम सहित कई लोगों ने बताया कि सरकार द्वारा जारी लॉक डाउन में मजदुरो के साथ परेशानी काफी बढ़ गई थी। रोजगार मिलने प्रवासी मजदुरो समेत परिजनों मे काफी हर्ष है। हिन्दुस्थान समाचार /अरविंद

Related Stories

No stories found.