मालगाड़ी का इंजन फेल होने से शहर में लगा भयंकर जाम, यात्रियों के हंगामे से स्टेशन पर अफरातफरी

आक्रोशित यात्रियों ने विद्युतीकरण के बावजूद इलेक्ट्रिक लोको नहीं चलाए जाने को लेकर आक्रोश प्रकट किया।
मालगाड़ी का इंजन फेल होने से शहर में लगा भयंकर जाम
मालगाड़ी का इंजन फेल होने से शहर में लगा भयंकर जाम

अररिया, एजेंसी। जोगबनी से आ रही मालगाड़ी ट्रेन का इंजन फारबिसगंज सुभाष चौक रेलवे गुमटी गेट संख्या केजे-65 के पास गुरुवार को फेल हो जाने से फारबिसगंज रेलवे स्टेशन पर एक घंटा 20 मिनट तक डेमू पैसेंजर ट्रेन संख्या 07553 रुकी रही। इससे परेशान स्टेशन पर यात्रियों ने जमकर बवाल मचाया।आक्रोशित रेल यात्रियों ने स्टेशन अधीक्षक मनोज झा का घेराव करते हुए विरोध जताया।इस दौरान स्टेशन पर अफरा तफरी का माहौल बना रहा।

कई गाड़ियां फंसी

अफरातफरी के बीच स्टेशन अधीक्षक मनोज झा ने अनाउंस कराकर तकनीकी खराबी की जानकारी यात्रियों को दी।आक्रोशित रेल यात्रियों ने रेल प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।मालगाड़ी के इंजन फेल हो जाने के कारण कटिहार जोगबनी रेलखंड पर जहां तहां यात्री गाड़ी समेत मालगाड़ी रुकी रही।

रेल प्रशासन पर उठे सवाल

आक्रोशित यात्रियों ने विद्युतीकरण के बावजूद इलेक्ट्रिक लोको नहीं चलाए जाने को लेकर आक्रोश प्रकट किया। आक्रोशित रेल यात्री मनोज पांडेय,श्रृष्टिधर झा,नरेश मंडल, बंटी कुमार,रमेश सिंह आदि ने अक्रोशित लहजे में कहा कि कबाड़ में फेंके डेमू ट्रेन सहित अन्य इंजनों को इस रेलखंड पर संचालित कर यात्रियों के साथ रेल प्रशासन भद्दा मजाक कर रही है।लंबे समय तक ट्रेनों के ठहराव को लेकर रेल प्रशासन समुचित जवाब भी देना नागवार समझती है।पूछताछ काउंटर पर किसी भी प्रतिनिधि को जानकारी देने के लिए नहीं बिठाया गया है।जिम्मेवारियों से भागना रेल प्रशासन के लिए बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है।

शहर में लगा जाम

इधर सुभाष चौक केजी 65 गेट पर 9:15 से लेकर 11:08 करीब दो घण्टे तक रेलवे गेट गिरे रहने से शहर में जाम की समस्या उत्पन्न हो गयी।जहां भीषण गर्मी में लोग कराहते हुए सरकारी सिस्टम को कोसते नजर आए।वही गेट मेन अरविंद कुमार ने बताया की मालगाड़ी ट्रेन जोगबनी से फारबिसगंज आ रही थी की गेट संख्या 65 सुभाष चौक पर 9:14 बजे ही फैल हो गयी।जिससे पैसेंजर ट्रेन फारबिसगंज तो कोलकाता जोगबनी चितपुर एक्सप्रेस सिमराहा में रुकी रही।जिसके उपरांत जोगबनी से एक्सट्रा इंजन लाकर मालगाड़ी ट्रेन को पीछे से ठेलते हुए फारबिसगंज रेलवे स्टेशन तक पहुंचाया गया। जहां 11 :08 मिनट पर गेट खुला उसके बाद पैसेंजर ट्रेन जोगबनी के लिये रवाना हुई और लोगों ने राहत की सांस ली।इधर रेलवे गेट पर परेशान पैदल यात्री लोग जान जोखिम में डाल मालगाड़ी ट्रेन के बीच से पार होते दिखे। मामले पर स्टेशन अधीक्षक मनोज झा ने बताया की मालगाड़ी इंजन फेल होने के कारण पैसेंजर ट्रेन रुकी रही, जिससे यात्रियों को परेशानी हुई।वही तत्परता के साथ इंजन मंगवा रेलवे ट्रेक खाली करवाकर परिचालन व्यवस्था बहाल की गयी।

Related Stories

No stories found.