अयोध्या राम मंदिर बनाने वाली Company को मिला बुलेट ट्रेन दौड़ाने का काम, पूरी डिटेल्स यहां

Ayodhya Ram Mandir: अयोध्या में 22 जनवरी को राम लला की प्राण-प्रतिष्ठा होगी। इसका काउंटडाउन शुरू है। राम मंदिर निर्माण में जुटी कंपनी लार्सन टुब्रो पर भगवान श्रीराम की कृपा बरसनी शुरू हो गई है।
अयोध्या राम मंदिर, जिसका निर्माण एलएंडटी कर रही है।
अयोध्या राम मंदिर, जिसका निर्माण एलएंडटी कर रही है। सोशल मीडिया।

नई दिल्ली, रफ्तार। अयोध्या में 22 जनवरी को राम लला की प्राण-प्रतिष्ठा होगी। इसका काउंटडाउन शुरू है। राम मंदिर निर्माण में जुटी देश की जानी-मानी कंपनी लार्सन टुब्रो पर भगवान श्रीराम की कृपा बरसनी शुरू हो गई है। कंपनी को मुंबई से अहमदाबाद जाने वाली बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट का काम मिला है। लार्सन एंड टुब्रो (एलएंडटी) ने बताया कि उसकी कंस्ट्रक्शन आर्म को मुंबई-अहमदाबाद बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट के लिए 508 रूट किलोमीटर हाई-स्पीड इलेक्ट्रिफिकेशन सिस्टम बनाने का ऑर्डर मिला है।

320 किलोमीटर प्रति घंटे तक की स्पीड से सफर कर सकेंगे लोग

कंपनी के मुताबिक यह ऑर्डर एक रिकॉगनाइज्ड जापानी एजेंसी द्वारा मिला है। कंपनी ने बीएसई को फाइलिंग में बताया कि एलएंडटी कंस्ट्रक्शन के रेलवे स्ट्रैटिजिक बिजनेस ग्रुप ने मुंबई-अहमदाबाद हाई-स्पीड रेल प्रोजेक्ट के लिए 508 रूट किमी हाई-स्पीड इलेक्ट्रिफिकेशन सिस्टम निर्माण के लिए मेगा ऑर्डर हासिल किया है। इस इलेक्ट्रिफिकेशन सिस्टम से ट्रेनों को 320 किलोमीटर प्रति घंटे तक की स्पीड से ट्रैवल करने में मदद मिलेगी।

कितना बड़ा ऑर्डर?

कंपनी ने कहा कि इस प्रोजेक्ट को जापान इंटरनेशनल कोऑपरेशन एजेंसी (जेआईसीए) द्वारा फाइनेंस किया जा रहा है और नेशनल हाई स्पीड रेल कॉरपोरेशन लिमिटेड की ओर से काम करने वाली ऑथराइज्ड जापानी एजेंसी द्वारा इंप्लीमेंट किया जा रहा है। प्रोजेक्ट 10,000-15,000 रुपए करोड़ के बीच का है। 11 जनवरी को रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा था कि मुंबई-अहमदाबाद बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट की प्रगति संतोषजनक है।

ये है पूरा प्रोजेक्ट

मुंबई और अहमदाबाद के बीच यह प्रोजेक्ट 508 किलोमीटर लंबा है। इसमें 272 किलोमीटर की लंबाई पर वायाडक्ट बना है। रेल मंत्री वैष्णव ने बताया कि रूट पर आठ नदियां हैं। उनमें से पांच पर पुल बने हैं। मंत्री ने दोहराया कि सूरत और बिलिमोरा के बीच 50 किलोमीटर लंबे सेगमेंट को पूरा करने की टाइम लिमिट 2026 है। काम तय कार्यक्रम के अनुसार चल रहा है। बुलेट ट्रेन कॉरिडोर मुंबई, ठाणे, वापी, सूरत, वडोदरा, आनंद और अहमदाबाद को इंटीग्रेड करेगा। जो देश के आर्थिक विकास के लिए बेहतर होगा।

कंपनी के शेयरों में वृद्धि

इस ऐलान के बाद से लार्सन एंड टुब्रो के शेयरों में इजाफा दिख रहा है। कंपनी का शेयर दोपहर 12:53 बजे एक फीसदी के इजाफे के साथ 3571.40 रुपए पर कारोबार कर रहा था। कारोबारी सत्र के दौरान कंपनी का शेयर 3588 रुपए पर भी पहुंचा। कंपनी का शेयर 15 जनवरी को कारोबारी सत्र के दौरान 3605.55 रुपए के साथ 52 हफ्तों के हाई पर पहुंचा था। खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.