Ram Mandir Pran Pratishtha:'राम आग नहीं ऊर्जा है' प्राण प्रतिष्ठा के बाद बोले PM मोदी, कहा-'आज हमारे राम आ गए'

Ram Mandir Pran Pratishtha: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, राम समाधान है। राम सबके हैं। राम सिर्फ वर्तमान नहीं, अनंत काल हैं। राम विवाद नहीं समाधान हैं। वह वर्तमान नहीं अनंतकाल हैं।
PM Modi, ramlala
PM Modi, ramlala

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा हो गई। अयोध्यावासियों के साथ यह पूरा देश के लिए एक स्वर्णिम दिन है। अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के साथ 500 वर्षों के इंतजार खत्म हो चुका है। राम मंदिर के गर्भगृह में भगवान राम लला की प्राण प्रतिष्ठा करने के बाद 51 इंच की मूर्ति की पहली झलक दुनिया से सामने आ गई है। पीतांबरधारी राघव की इस मूर्ति को देखकर रामभक्त भावविभोर हो रहे हैं। पांच साल के रूप में चित्रित इस मूर्ति की पहली झलक सच में काफी मनमोहक कर देने वाली है। श्रीराम की मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा हो जाने के बाद अब रामभक्त अपने भगवान के दर्शन करने के लिए बेताब हैं। इस दौरान प्राण-प्रतिष्ठा कार्यक्रम के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोगों संबोधित किया।

राम विवाद नहीं समाधान हैं- पीएम

अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, "कई लोग कहते थे कि राम मंदिर बना तो इस देश में आग लग जाएगा, ऐसे लोग भारत के परिपक्वता को नहीं जान पाए। मैं उन लोगों को कहना चाहूंगा कि आइए महसूस कीजिए राम आग नहीं ऊर्जा है। राम समाधान है। राम सबके हैं। राम सिर्फ वर्तमान नहीं, अनंत काल हैं। राम विवाद नहीं समाधान हैं। वह वर्तमान नहीं अनंतकाल हैं। वह भारत के आधार भी हैं और विचार भी हैं। प्रधानमंत्री ने आगे यह भी कहा कि यही समय है, सही समय है।

सभी देशवाशी भव्य और दिव्य भारत के निर्माण की सौगंध लेते हैं

पीएम मोदी ने कहा, "आज का अवसर उत्सवता का तो क्षण है ही इसके अलावा भारत के समाज के परिपक्वता का क्षण है। दुनिया का इतिहास साक्षी है कई राष्ट्र अपने ही उलझन में उलझ गए। आज से इस समय तक अगले 1000 साल तक की नींव रखनी है। मंदिर निर्माण से आगे बढ़कर सभी देशवाशी भव्य और दिव्य भारत के निर्माण की सौगंध लेते हैं। राम के विचार मानस के साथ जनमानस में भी हों, यह राष्ट्रनिर्माण की सीढ़ी है। आज के युग की मांग है कि हमें अपने अंतःकरण को विस्तार देना होगा। हनुमान की भक्ति, सेवा और समर्पण को हमें बाहर नहीं खोजना पड़ता। हर भारतीय में ये गुण निहित हैं। यही देव से देश और राम से राष्ट्र का आधार बनेंगे।

हमारे रामलला अब टैंट में नहीं रहेंग- पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, मुझे सागर से सरयू तक यात्रा करने का मौका मिला। सागर से सरयू तक हर जगह राम नाम का भाव जागा हुआ है। ये क्षण अलौकिक, पवित्र है। आज सदियों के धैर्य की धरोहर मिली है। पीएम मोदी ने आगे कहा कि हमारे प्रयास में कुछ तो कमी रही होगी कि इतने सालों तक हम रामलला को मंदिर में स्थापित नहीं कर पाए। पीएम मोदी ने मंदिर परिसर के मंच से लोगों को संबोधित किया। उन्होंने कहा, हमारे प्रभु राम आ गए हैं। कितना कुछ कहने को है, लेकिन मेरा चित्त अभी भी उस पल में लिन है। हमारे रामलला अब टैंट में नहीं रहेंग। अब रामलला दिव्य मंदिर में रहेंगे।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.