Delhi News: सांसद मनोज तिवारी का गाना 'राम के थे, राम के हैं, राम के रहेंगे...' रिलीज, पढ़ें पूरी खबर

Delhi News: अयोध्या में रामलला के मंदिर में 22 जनवरी को प्राण प्रतिष्ठा होने वाली है। इससे पहले भाजपा सांसद और सिंगर-एक्टर मनोज तिवारी का बुधवार को भगवान राम को समर्पित एक गाना रिलीज हो गया है।
Manoj Tiwari
Manoj Tiwariraftaar.in

नई दिल्ली, (हि.स.)। अयोध्या में रामलला के मंदिर में 22 जनवरी को प्राण प्रतिष्ठा होने वाली है। इससे पहले भाजपा सांसद और सिंगर-एक्टर मनोज तिवारी का बुधवार को भगवान राम को समर्पित एक गाना ''राम के थे राम के हैं राम के रहेंगे...'' रिलीज हो गया है। यह गाना भगवान राम के प्रति उनकी आस्था को दर्शाता है और वे इस गाने के लिए अपने को गौरवान्वित महसूस भी करते हैं।

गाने को मनोज तिवारी ने शीतल पांडे और अमित ढुल के साथ मिलकर गाया है

इस गाने को मनोज तिवारी ने शीतल पांडे और अमित ढुल के साथ मिलकर गाया है। इस गाने के म्यूजिक वीडियो में भी तीनों दिख रहे हैं। इस गाने के बैक ग्राउंड में भगवान राम की छवि इनके भक्तिमय बना रहा है।

''राम के थे राम के हैं राम के रहेंगे...'' ढुल एंटरटेनमेंट की प्रस्तुति है

मनोज तिवारी, शीतल पांडे और अमित ढुल का यह राम भजन ''राम के थे राम के हैं राम के रहेंगे...'' ढुल एंटरटेनमेंट की प्रस्तुति है, जो ढुल एंटरटेनमेंट के ऑफिसियल यूट्यूब चैनल से रिलीज हुआ है।

हम सभी राम के थे, राम के हैं और राम के रहेंगे: मनोज तिवारी

इस गाने को लेकर मनोज तिवारी ने कहा कि यह सच है कि हम सभी राम के थे, राम के हैं और राम के रहेंगे। हमें इस पर गर्व है। हम इस बात से भी गौरवान्वित हैं कि सनातन धर्म और रामचरितमानस की परम्परा से आते हैं। यह हमारी धार्मिक और सांस्कृतिक समृद्ध विरासत है। अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण करवाकर इस विरासत को बढ़ाने का काम देश के प्रधानमंत्री नरेन्द मोदी ने किया है। भगवान राम की महिमा अलौकिक है और उनके आगमन से पूरा देश हर्षित है। ऐसे में हमारा यह गाना सभी राम भक्तों के लिए है। उम्मीद है सभी को यह गाना पसंद आएगा।

गाना लोगों के बीच में वायरल हो रहा है

उल्लेखनीय है कि लंबे समय के बाद मनोज तिवारी कोई गाना लेकर आ रहे हैं, जिसका उनके फैंस को भी बेसब्री से इंतजार था। वहीं, भगवान श्री राम को लेकर बनने वाला यह अबतक का सबसे अनोखा गाना है, जो तेजी से लोगों के बीच में वायरल हो रहा है।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.