Ram Mandir: रामलला के गर्भगृह में घुसा बंदर, सुरक्षाकर्मी बोले- हनुमान पधारे हैं

Ayodhya: अयोध्या में रामलला के दर्शन करने के लिए मंगलवार को द्वार खोल दिए हैं। शाम के समय एक बंदर ने मंदिर परिसर में प्रवेश किया। यह दृश्य ऐसा था जैसे भगवान हनुमान प्रभु श्रीराम के दर्शन करने आए हों।
Ram Mandir
Ram Mandir Raftaar.in

अयोध्या, हि.स। प्राण प्रतिष्ठा के बाद से ही अयोध्या के राम मंदिर में श्रद्धालुओं का तांता लगा हुआ है। भक्तों की भीड़ के बीच मंगलवार को एक बंदर रामलला के गर्भगृह में घुस गया। हालांकि, लोगों ने और सुरक्षा कर्मियों ने उस बंदर को भगाने की कोशिश नहीं की। उन्होंने कहा कि ऐसा लग रहा है कि राम के के दर्शन करने हनुमान पधारे हैं।

चम्पत राय ने बताया दृश्य

श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट महासचिव चम्पत राय ने मंगलवार रात एक बयान जारी कर बताया कि मंगलवार की सायंकाल करीब 5:50 बजे एक बंदर दक्षिणी द्वार से गूढ़ मंडप से होते हुए गर्भगृह में प्रवेश करके उत्सव मूर्ति के पास तक पहुंचा। बाहर तैनात सुरक्षाकर्मियों ने देखा, वे बन्दर की ओर यह सोच कर भागे कि कहीं यह बन्दर उत्सव मूर्ति को जमीन पर न गिरा दे। परन्तु जैसे ही पुलिसकर्मी बंदर की ओर दौड़े, वैसे ही बंदर शांतभाव से भागते हुए उत्तरी द्वार की ओर गया। द्वार बंद होने के कारण पूर्व दिशा की ओर बढ़ा और दर्शनार्थियों के बीच में से होता हुआ, बिना किसी को कष्ट पहुंचाए पूर्वी द्वार से बाहर निकल गया।

स्वयं हनुमान जी श्रीरामलला के दर्शन करने आए

इस मौके पर तैनात सुरक्षाकर्मियों ने कहा कि यह हमारे लिए ऐसा ही है, मानो स्वयं हनुमान जी श्रीरामलला के दर्शन करने आए हों। यह कहना गलत नहीं होगा क्योंकि भगवान हनुमान प्रभु श्रीराम के सबसे बड़े भक्त थे, उनकी रुप-रेखा बंदर की भांति है। इसलिए मंदिर में जब बंदर पधारे तब सभी को लगा मानो हनुमान जी स्वयं अपने आराध्य प्रभु श्रीराम के दर्शन करने आए हैं।

3 लाख भक्तों ने किए पहले दिन रामलला के दर्शन

मंगलवार 23 जनवरी को रामलला के कपाट भक्तों के लिए खोल दिए गए हैं। पहले ही दिन रामभक्तों की भीड़ भारी संख्या में उमड़ी। तकरीबन 3 लाख भक्तों ने पहले ही दिन रामलला के दर्शन किए। पुलिस-प्रशासन इतनी संख्या में भीड़ को संभालना मुश्किल हो चला था। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्वयं अयोध्याधाम का जायजा लिया और सुरक्षा-व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम करने के निर्देश दिए।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.