Ayodhya Ram Mandir में VIP एंट्री का झांसा देकर Cyber Scam, एक गलती और बैंक अकाउंट हो जाएगा खाली

Ayodhya Ram Mandir Scam: योध्या राम मंदिर की प्राण-प्रतिष्ठा को लेकर पूरे देश में उत्साह है। श्रद्धालु इस ऐतिहासिक दिन का हिस्सा बनने को बेताब है, जिसका फायदा स्कैमर्स उठा रहे हैं।
राम मंदिर वीआईपी एंट्री के नाम पर स्कैम।
राम मंदिर वीआईपी एंट्री के नाम पर स्कैम। रफ्तार।

नई दिल्ली, रफ्तार। अयोध्या राम मंदिर की प्राण-प्रतिष्ठा को लेकर पूरे देश में उत्साह है। श्रद्धालु इस ऐतिहासिक दिन का हिस्सा बनने को बेताब है, जिसका फायदा स्कैमर्स उठा रहे हैं। 22 जनवरी को राम मंदिर में वीआईपी एंट्री दिलाने का झांसा देकर साइबर ठग लोगों का खाता खाली कर रहे हैं। लोगों के मोबाइल पर राम जन्मभूमि गृहसंपर्क अभियान एप के नाम से फाइल बनाकर मैसेज भेजा जा रहा। फाइल को डाउनलोड करते ही लोग ठगी के शिकार हो सकते हैं। छत्तीसगढ़ की बिलासपुर पुलिस ने ऐसे एप को डाउनलोड करने से बचने के लिए कहा है। मैसेज मिलने पर शिकायत दर्ज कराने की अपील की गई है।

आपका पर्सनल डाटा हो सकता है चोरी

बिलासपुर के सीएसपी पटेल के मुताबिक बिना जाने-समझे इस तरह के एप को डाउनलोड करना जोखिम से भरा है। इसमें ऐसे सॉफ्टवेयर हो सकते हैं, जो लोगों के पर्सनल डेटा चुरा सकते हैं। इस तरह की लिंक या फाइल से ठग आपके बैंक खाते से पैसे भी उड़ा सकते हैं।

राम मंदिर दर्शन के लिए VIP पास व्यवस्था नहीं

प्रशिक्षु IPS संदीप पटेल ने बताया कि राम मंदिर दर्शन के लिए वीआईपी पास दिलाने जैसी व्यवस्था नहीं है। जिन्हें निमंत्रण मिला है, उन्हें आधिकारिक रूप से भेजा गया है। इसके लिए अभियान नहीं चलाया जा रहा, न कोई मैसेज भेजा जा रहा। उधर, चमोली पुलिस ने राम मंदिर में वीआईपी दर्शन के नाम पर आने वाले संदेशों पर क्लिक और किसी भी फाइल को डाउनलोड नहीं करने की अपील की है।

विहिप की अपील

विश्व हिंदू परिषद के राष्ट्रीय प्रवक्ता विनोद बंसल ने भी एक्स (पूर्व में ट्विटर) पर पोस्ट कर लोगों से सावधान रहने की अपील की। संगठन ने कहा कि अयोध्या में भगवान श्रीराम मंदिर के वीआईपी दर्शन आदि का झांसा देकर कुछ लोग रामभक्तों को लूटने का षड्यंत्र रच रहे हैं। ऐसे झूठे संदेशों के झांसे में नहीं आना है। ऐसे संदेशों की शिकायत पुलिस से करें।

फरीदाबाद पुलिस ने जारी की एडवाइजरी

फरीदाबाद पुलिस ने साइबर सुरक्षा संबंधित एडवाइजरी जारी की है। आम लोगों से अपील की गई है कि वह सोशल मीडिया पर आए किसी प्रकार के लिंक आदि पर क्लिक नहीं करें। पुलिस आयुक्त कार्यालय द्वारा जारी एडवाइजरी में बताया गया है कि श्रीराम मंदिर के 22 जनवरी को शुभोत्सव को देखते हुए बड़ी संख्या में साइबर ठग भी सक्रिय हुए हैं।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.