राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में भाग नहीं लेगी कांग्रेस, अयोध्या नहीं जा रहें खड़गे और सोनिया

Ram Mandir Inauguration: अयोध्या में 22 जनवरी को होने वाले भगवान राम के प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में शामिल होने का न्योता कांग्रेस पार्टी ने अस्वीकार कर दिया है।
Sonia Gandhi, Kharge
Sonia Gandhi, KhargeRaftaar

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। अयोध्या में 22 जनवरी को होने वाले भगवान राम के प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में शामिल होने का न्योता कांग्रेस पार्टी ने अस्वीकार कर दिया है। पार्टी की तरफ से बयान जारी कर इस फैसले की जानकारी लोगों को दी गई है। पार्टी की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम का न्योता सम्मानपूर्वक अस्वीकार किया गया है। 22 जनवरी को होने वाले इस कार्यक्रम में सोनिया गांधी और मल्लिकार्जुन खड़गे समेत कांग्रेस का कोई भी नेता अयोध्या नहीं जाएगा।

क्या कहा कांग्रेस ने?

कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने एक बयान जारी करते हुए कहा कि पिछले महीने 22 जनवरी 2024 को अयोध्या में आयोजित होने वाले राम मंदिर के उद्घाटन समारोह में शामिल होने के लिए कांग्रेस अध्यक्ष और राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, कांग्रेस संसदीय दल की अध्यक्ष सोनिया गांधी और लोकसभा में कांग्रेस पार्टी के नेता अधीर रंजन चौधरी को समारोह में शामिल होने का निमंत्रण मिला था। भगवान राम की पूजा-अर्चना करोड़ों भारतीय करते हैं। धर्म मनुष्य का व्यक्तिगत विषय होता आया है, लेकिन बीजेपी और आरएसएस ने वर्षों से अयोध्या में राम मंदिर को एक राजनीतिक परियोजना बना दिया है।''

कांग्रेस ने बताया बीजेपी और RSS का है इवेंट

उन्होंने आगे कहा, RSS/बीजेपी ने लंबे समय से अयोध्या में मंदिर को राजनीतिक प्रोजेक्ट बनाया है। उन्होंने आगे कहा कि बीजेपी और आरएसएस के नेताओं द्वारा अधूरे मंदिर का उद्घाटन स्पष्ट रूप से चुनावी लाभ के लिए किया जा रहा है। 2019 के सुप्रीम कोर्ट के फैसले का पालन करते हुए और भगवान राम का सम्मान करने वाले लाखों लोगों की भावनाओं का सम्मान करते हुए मल्लिकार्जुन खड़गे, सोनिया गांधी और अधीर रंजन चौधरी ने स्पष्ट रूप से आरएसएस/बीजेपी के कार्यक्रम के निमंत्रण को सम्मानपूर्वक अस्वीकार कर दिया है।

प्राण प्रतिष्ठा समारोह में PM मोदी रहेंगे मुख्य यजमान

दरससल, 22 जनवरी को होने वाले राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ सहित 6 हजार से ज्यादा लोग शामिल होंगे। इस कार्यक्रम में रामलला के मूर्ति की प्राण-प्रतिष्ठा होनी है। इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मुख्य यजमान के रूप में शामिल होंगे। ऐसे में केंद्र से लेकर राज्य सरकार के अधिकारी कार्यक्रम की तैयारियों में व्यस्त हैं। अयोध्या में प्राण-प्रतिष्ठा से एक हफ्ते पहले धार्मिक कार्यक्रम शुरू हो जाएंगे। प्राण-प्रतिष्ठा कार्यक्रम में मेहमानों को न्योते भेजा जा रहा हैं। श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट, विश्व हिंदू परिषद और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के पदाधिकारियों ने बेहद सधे अंदाज में अतिथियों की लिस्ट तैयार की है।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.