Assam News: भारत के पूर्व मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई को मिलेगा 'असम वैभव' पुरस्कार

Assam Civilian Award 2023: राज्य सरकार के प्रतिष्ठित नागरिक पुरस्कार-2023 वितरण समारोह मंगलवार की शाम को होगा। कार्यक्रम में उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ शामिल होंगे।
Ranjan Gogoi and Hima Das, Elvis Ali Hazarika
Ranjan Gogoi and Hima Das, Elvis Ali Hazarikaraftaar.in

गुवाहाटी, (हि.स.)। राज्य सरकार के प्रतिष्ठित नागरिक पुरस्कार-2023 वितरण समारोह मंगलवार की शाम को होगा। कार्यक्रम में उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ शामिल होंगे। भारत के पूर्व मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई को 'असम वैभव' के अलावा चार लोगों को 'असम सौरव' और 17 लोगों को 'असम गौरव' पुरस्कार दिए जाएंगे।

उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ और मुख्यमंत्री डॉ. हिमंत बिस्वा सरमा भी उपस्थित रहेंगे

गुवाहाटी में आज शाम को श्रीमंत शंकरदेव कलाक्षेत्र में पुरस्कार समारोह का आयोजन किया जा रहा है। इसमें राज्य की विभूतियों को असम के राज्यपाल गुलाब चंद कटारिया सम्मानित करेंगे। इस कार्यक्रम में उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ और मुख्यमंत्री डॉ. हिमंत बिस्वा सरमा भी उपस्थित रहेंगे। इस बार भारत के पूर्व मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई को 'असम वैभव' पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। इसके अलावा विभिन्न क्षेत्रों के चार लोगों को 'असम सौरव पुरस्कार' पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। इनमें तैराक एल्विस अली हजारिका, धावक हिमा दास, नादिराम देवरी और गाजियाबाद के डॉ. किशन चंद नौरिया शामिल हैं।

इसके अलावा राज्य के 17 व्यक्तियों को 'असम गौरव पुरस्कार' भी दिया जाएगा

इसके अलावा राज्य के 17 व्यक्तियों को 'असम गौरव पुरस्कार' भी दिया जाएगा। जिसमें बिहुवा रंजीत गोगोई, हाथी विशेषज्ञ पार्बती बरुवा, साउंड इंजीनियर देबजीत चांगमाई, प्रख्यात किसान नीलम दत्ता, प्रख्यात उद्यमी अनुपम डेका, प्रकृति प्रेमी सौम्यदीप दत्ता, मशरूम की खेती करने वाले किसान बसंत सिरिंग फुकन, बरपेटा के मनेंद्र डेका, शिवसागर की आशा कार्यकर्ता मीनाक्षी चेतिया, कार्बी आंगलोंग की पाखिला लेकाथेपी, द्रोण भुइयां, उदालगुड़ी के तेनजिंग बोडोसा, निर्मल दे, जेसिन कुंबांग पाव, मैरी हसन, आंद्रे हसन, उपेंद्र राभा और असमिया उद्यमी राहुल गुप्ता शामिल हैं।

पुरस्कार विजेताओं को मिलने वाले लाभ

असम सरकार की ओर से 'असम वैभव' से पुरस्कृत होने वाले व्यक्ति को पांच लाख रुपये, 'असम सौरव पुरस्कार' प्राप्त करने वालों को चार लाख रुपये और 'असम गौरव पुरस्कार' के प्राप्तकर्ताओं को तीन लाख रुपये दिए जाएंगे। इन सभी पुरस्कार विजेताओं को राज्य के मेडिकल कॉलेजों में आजीवन मुफ्त चिकित्सा और सरकार की ओर से नि:शुल्क गेस्ट हाऊस की सुविधा मिलेगी। गंभीर बीमारी की स्थिति में सरकार उन्हें 2 लाख रुपये तक की सहायता देगी। सरकार पुरस्कार विजेताओं को मुफ्त एएसटीसी बसों में यात्रा की सुविधा भी प्रदान करेगी। इस सुविधा का लाभ उठाने के लिए पुरस्कार विजेता को 24 घंटे पहले राज्य सरकार को सूचित करना होगा।

अन्य ख़बरों के लिए क्लिक करें - www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.