खत्म नहीं होगा मुस्लिम आरक्षण: चंद्रबाबू नायडू करते है धर्म की राजनीति, जगन मोहन रेड्डी ने लगाया आरोप

चुनावी रैली में आंध्र प्रदेश सीएम वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने चंद्रबाबू नायडू पर निशाना साधते हुए कहा कि वे सिर्फ जाति-धर्म की राजनीति करते हैं।
Jagan Mohan Reddy
Jagan Mohan Reddyraftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। भाजपा और विपक्षी दलों के बीच आरक्षण और माइनॉरिटी कोटा को लेकर चल रही जंग के बीच एक नया बयान सामने आया है। आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने कहा कि मुसलमानों का 4 प्रतिशत आरक्षण रहेगा और यह हमारी पार्टी का इस मामले में यह अंतिम फैसला है। आंध्र प्रदेश में विधानसभा और लोकसभा चुनाव 13 मई को होंगे और वोटों की गिनती 4 जून को होगी।

चंद्रबाबू नायडू पर साधा निशाना

कुरनूल में एक सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि एक तरफ तो चंद्रबाबू नायडू भाजपा का हाथ थाम रहे है जो मुसलमानों के आरक्षण के खिलाफ है, लेकिन वहीं दूसरी तरफ नायडू मायनॉरिटी वोट के लिए नई तरकीबे अपना रहें है। उन्होंने नायडू से सवाल किया कि भाजपा द्वारा 4 प्रतिशत आरक्षण हटाने के बाद भी वह भाजपा के समर्थन में क्यों हैं? वाईएसआर पार्टी का तो आखिरी फैसला है चाहे कुछ भी हो जाए मुसलमानों का आरक्षण बरकरार रहेगा।

सुविधाओं और योजनाओं से समझौता

लोकसभा चुनावों को लेकर रेड्डी ने कहा कि चंद दिन में चुनावी रण तैयार है। यह रण विधायक या सांसद को चुनने के लिए नहीं बल्कि राज्य में प्रत्येक घर तक पहुंच रही सुविधाओं और योजनाओं को तय करेगा। अगर आप चंद्रबाबू को चुनते हैं तो उन सभी योजनाओं को लाल झंडी दिखाएंगे को सरकार आपके घर पहुंचा रही है।

लालू प्रसाद यादव ने भी की आरक्षण पर बात

आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव ने भी मुस्लिम आरक्षण पर स्टेटमेंट देकर विवाद खड़ा कर दिया और पीएम मोदी की आलोचना हुई। लालू प्रसाद यादव ने कहा कि मुसलमानों को आरक्षण मिलना चाहिए। हालांकि बाद में लालू प्रसाद यादव ने साफ तौर पर इस बात को स्पष्ट किया कि आरक्षण धर्म के आधार पर नहीं बल्कि सामाजिक तौर पर पर मिलना चाहिए। लालू यादव ने कहा कि मैंने 'मंडल आयोग' लागू किया। आरक्षण सामाजिक आधार पर होता है, धार्मिक आधार पर नहीं होता है।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.