अब काशी और मथुरा पर नज़र, राम मंदिर के कोषाध्यक्ष बोले, 'ये दो मिल जाएं तो किसी और मस्जिद पर नहीं जाएंगे'

अयोध्या में भव्य राम मंदिर बनने के बाद अब हिंदू पक्ष काशी और मथुरा पर नज़र गड़ा रहे हैं। राम मंदिर के कोषाध्यक्ष ने कहा है कि ये दोनों मिल जाएंगे तो हिंदू पक्ष देश के किसी और मस्जिद पर नहीं जाएगा।
Govind devgiri said Muslim brothers give us Kashi Mathura
Govind devgiri said Muslim brothers give us Kashi MathuraSocial media

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। अयोध्या स्थित राम मंदिर के कोषाध्यक्ष गोविंद देवगिरी ने काशी और मथुरा को लेकर बड़ी बात कही है। उन्होंने मुस्लिम पक्ष से अपील की है वो राज़ी-खुशी उन्हें काशी और मथुरा दे दें, उसके बाद वो देश के अन्य मस्जिदों पर नहीं जाएंगे। उन्होंने कहा, "हम अतीत में नहीं जीना चाहते, हम भविष्य में जीना चाहते हैं। और एक दूसरे के साथ भाईचारे के साथ रहना चाहते है।"

'हमारी आस्था का सम्मान करें'

राम जन्मभूमि ट्रस्ट के कोषाध्यक्ष गोविंद देवगिरी महाराज ने 4 फरवरी को पुणे में एक कार्यक्रम के दौरान ये बातें कही। उन्होंने कहा, 'हमें इस बात का दुख है कि विदेशी आक्रमणकारियों द्वारा मंदिर नष्ट किए गए हैं। हिंदुस्तान में करीब 3500 से अधिक मंदिरों को तोड़ा गया है। हम देख रहे हैं कि कहीं-कहीं लोग समझदार हैं तो कहीं ऐसे लोग नहीं हैं। जहां जिस प्रकार की परिस्थितियां होगी। हम उसी के अनुसार काम करेंगे। हम किसी प्रकार के अशांति नहीं चाहते।'

Related Stories

No stories found.