Jharkhand News : अब हर विश्वविद्यालय को देना होगा हर महीने राजभवन को खर्चे का हिसाब

Jharkhand News - संभवत: यह पहली बार हो रहा है जब विश्वविद्यालय के वित्तीय मामले को लेकर राजभवन ने रिपोर्ट मांगी है।
Rajbhavan
RajbhavanHS

नई दिल्ली - रफ़्तार डेस्क / हिन्दुस्थान समाचार राज्य के सभी विश्वविद्यालयों में वित्तीय अनुशासन को मजबूती देने के लिए अब राजभवन ने प्रत्येक महीने के व्यय का विस्तृत खाता मांगने की प्रक्रिया शुरू की है। यह बड़ी खबर है क्योंकि यह पहली बार हो रहा है जब विश्वविद्यालय के वित्तीय पहलू को लेकर राजभवन ने ऐसी रिपोर्ट मांगी है।

राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन ने अपने प्रमुख सचिव डॉ नितिन मदन कुलकर्णी के माध्यम से सभी विश्वविद्यालयों के कुलपतियों को पत्र भेजकर यह निर्देश दिया है कि विश्वविद्यालय के मासिक व्यय की विस्तृत रिपोर्ट राजभवन को प्रत्येक महीने की पांच तारीख तक प्रस्तुत की जाए। इसके अतिरिक्त, सभी विश्वविद्यालयों से शिक्षकों के पदोन्नति मामले में लंबे समय से लंबित रहने के कारण कुछ सवालों का समाधान भी चाहिए। उन्होंने सभी विश्वविद्यालयों के रजिस्ट्रार से पूछा कि असिस्टेंट प्रोफेसर से एसोसिएट प्रोफेसर, रीडर और प्रोफेसर के पदों में प्रोन्नति के मामले में क्या कारण रहे हैं, जिनके परिणामस्वरूप यह मामले वर्षों से लंबित हैं।

सीपी राधाकृष्णन के प्रमुख सचिव डॉ नितिन मदन कुलकर्णी के अनुसार हाल ही में उन्हें विश्वविद्यालय में कुछ खर्च की अत्यधिकता के संबंध में शिकायत पत्र मिला है। उसके पश्चात्, उन्होंने इसे समीक्षा की और उसकी पुष्टि की। इसलिए, अब विश्वविद्यालयों को हर महीने के खर्च की विस्तृत जानकारी प्रस्तुत करनी होगी, जिसे प्रत्येक महीने की पांच तारीख तक पूरा किया जाना चाहिए। इस नए प्रक्रिया के अनुसार, आने वाले महीनों में किए गए व्यय की पूरी जानकारी अगले महीने की पांच तारीख तक प्रस्तुत की जाएगी।

अधिक खबरों के लिए क्लिक करें - www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.