बिना छुए गैंगरेप! ऑनलाइन अवतार में दर्ज हुआ Rape का पहला केस, जानिए क्या है माजरा

Metaverse Rape Case in UK British: मेटावर्स में रेप का पहला मामला दर्ज हुआ है। ऑनलाइन मेटावर्स में 16 साल की लड़की के साथ यूनाइटेड किंगडम यानी यूके में गैंगरेप किया गया है।
मेटारेप।
मेटारेप।रफ्तार।

नई दिल्ली, रफ्तार। मेटावर्स में रेप का पहला मामला दर्ज हुआ है। ऑनलाइन मेटावर्स में 16 साल की लड़की के साथ यूनाइटेड किंगडम यानी यूके में गैंगरेप किया गया है। पुलिस ने इस मामले की जांच शुरू कर दी है। नाबालिग लड़की का आरोप है कि कुछ लोगों ने रिएलिटी गेम में उससे ऑनलाइन अवतार में गैंगरेप किया। इससे नाबालिग लड़की सदमें में और डरी है। पीड़िता ने बताया कि असली दुनिया में यौन शोषण के दौरान जैसी तकलीफ होती है, वैसी ही उसे तकलीफ हुई। एक ऑनलाइन रूप में कई लोगों की मौजूदगी में उसे शिकार बनाया गया। मेटावर्स पर वर्चुअल दुनिया में रेप का यह पहला मामला है। किशोरी को दुष्कर्म पीड़िता की तरह मानसिक प्रताड़ना झेलनी पड़ी।

भावनात्मक और मनोवैज्ञानिक प्रभाव

डेली मेल के अनुसार 16 साल की यह लड़की इमर्सिव गेम में वर्चुअल रियलिटी (वीआर) हेडसेट का इस्तेमाल कर रही थी। तब उस पर हमला किया गया। इस रिपोर्ट में ब्रिटिश अधिकारियों के हवाले से बताया गया कि पीड़िता को इससे शारीरिक नुकसान तो नहीं हुआ, लेकिन उस पर पड़े भावनात्मक और मनोवैज्ञानिक प्रभाव को गंभीरता से लिया गया है।

पुलिस के सामने नई चुनौती

अधिकारियों के मुताबिक इससे कानून के सामने नई चुनौती खड़ी हो गई है। इस तरह के अपराध के लिए कानून में प्रावधान नहीं है। बता दें वर्चुअल दुनिया मेटावर्स में असल दुनिया की तरह काम हो रहे हैं। इस दुनिया में लोग नहीं होते, बल्कि लोगों के अवतार रहते हैं। मेटावर्स में साइन इन करने वाले लोग वर्चुअल दुनिया में चले जाते हैं। वह वर्चुअल अवतार में लोगों से मिलते हैं।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.