US News: अमेरिका में नहीं थम रहा भारतीय मूल के व्यक्तियों के साथ मारपीट, 41 वर्षीय विवेक तनेजा की हमले में मौत

US News: अमेरिका हर भारतीय के ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन की पढ़ाई के लिए पहली पसंद है। इसके लिए बड़ी तादाद में भारतीय स्टूडेंट्स स्टडी के लिए US में जाते हैं।
Vivek Taneja
Vivek Tanejaraftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। अमेरिका हर भारतीय के ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन की पढ़ाई के लिए पहली पसंद है। इसके लिए बड़ी तादाद में भारतीय स्टूडेंट्स स्टडी के लिए US में जाते हैं और साथ में कई स्टूडेंट्स वहां पार्ट टाइम जॉब भी करते हैं। लेकिन कई बार वहां से भारतीय मूल के छात्रों के साथ अभद्र व्यवहार की खबरें भी आती हैं, जो कि सभी भारतीयों को विचलित कर देती है। हाल में ही भारतीय मूल के छात्रों को मारपीट में मौत के घाट उतारने की खबर ने तो अमेरिका में हो रहे भारतीय छात्रों के साथ भेदभाव की पोल ही खोल डाली है। ऐसी ही एक ताजा खबर अमेरिका के वाशिंगटन में एक रेस्टोरेंट के बाहर लड़ाई में एक भारतीय मूल के व्यक्ति की मौत हो गई है।

विवेक तनेजा डायनेमो टेक्नोलॉजीज के सह-संस्थापक और अध्यक्ष थे

वाशिंगटन पुलिस की रिपोर्ट के अनुसार मरने वाला व्यक्ति भारतीय मूल का है, जिसका नाम विवेक तनेजा है। वह अमेरिका में वर्जिनिया में रहता था। विवेक तनेजा डायनेमो टेक्नोलॉजीज के सह-संस्थापक और अध्यक्ष थे। बताया जा रहा है कि 41 वर्षीय विवेक तनेजा, अपने ऑफिस के अन्य दो सहकर्मियों के साथ एक जापानी रेस्टोरेंट गए हुए थे। जहां उनकी किसी व्यक्ति के साथ किसी बात को लेकर बहस हो गयी और बात हाथापाई तक पहुंच गयी। इस हाथापाई में वो सिर के बल नीचे गिर गए, जिससे गंभीर चोट लगने के कारण उनकी मौत हो गयी।

जानकारी देने वाले को पुलिस ने 25,000 डॉलर का इनाम देने की घोषणा कर दी है

भारतीय मूल के व्यक्ति विवेक तनेजा को नजदीकी अस्तपताल ले जाया गया। डॉक्टरों ने विवेक के कोमा में होने की जानकारी दी थी, कुछ दिनों तक उनका इलाज चलता रहा। लेकिन बीते बुधवार को उन्होंने अंतिम सांस ली और उनकी मृत्यु हो गयी। वहीं पुलिस फरार संदिग्ध की तलाश में लगी हुई है। अभी तक पुलिस को उसका कोई सुराग नहीं लग पाया है। पुलिस ने संदिग्ध व्यक्ति की फुटेज सीसीटीवी में देखी है। संदिग्ध व्यक्ति का सुराग न मिल पाने पर उसकी जानकारी देने वाले को पुलिस ने 25,000 डॉलर का इनाम देने की घोषणा कर दी है।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.