दुबई में आफत की बारिश, यातायात ठप, एयरपोर्ट पर भरा पानी; पड़ोसी देश ओमान में बाढ़ से 18 मौतें

UAE: संयुक्त अरब अमीरात के पड़ोसी देश ओमान में तो तेज बारिश के कारण बाढ़ आने से 18 लोगों की मौत हो गई।
Dubai Heavy Rain
Dubai Heavy Rainraftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) और उसके आसपास के देशों में 16 अप्रैल को तेज बारिश हुई। बारिश से संयुक्त अरब अमीरात का ऐसा हाल हुआ कि हर जगह पानी पानी नजर आने लगा। तेज बारिश के कारण बाढ़ आ गयी, जिसके कारण कई शहरों में जाम लगा गया।

अगले 24 घंटों में भारी बारिश और ओलावृष्टि की चेतावनी

संयुक्त अरब अमीरात के पड़ोसी देश ओमान में तो तेज बारिश के कारण बाढ़ आने से 18 लोगों की मौत हो गई। तेज बारिश का सबसे ज्यादा असर दुबई के ट्रैफिक पर पड़ा। भारी बारिश के कारण सड़क यातायात ही नहीं, बल्कि हवाई यातायात भी बाधित हो गई। भारी बारिश के कारण दुबई का एयरपोर्ट पूरा पानी से भर गया। जिस कारण कई उड़ानों को रद्द करना पड़ा। दुबई पुलिस ने 15 अप्रैल को ही लोगों के लिए खराब मौसम की एडवाइजरी जारी कर उन्हें सावधानी बरतने के लिए कहा था। संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के मौसम विभाग ने दुबई, अबू धाबी समेत कई बड़े शहरों के लिए अगले 24 घंटों के दौरान भारी बारिश और ओलावृष्टि की चेतावनी दी है।

ओमान के अलग-अलग हिस्सों में 18 लोगों की मौत

संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के मौसम विभाग की जानकारी के अनुसार 17 अप्रैल 2024 तक मौसम ख़राब रहने की उम्मीद है। राष्ट्रीय आपातकालीन प्रबंधन समिति ने जानकारी दी है कि 14 अप्रैल 2024 और 15 अप्रैल 2024 को ओमान के अलग अलग हिस्सों में बाढ़ के कारण 18 लोगों की मौत हो गई। चाहे कोई भी देश कितना एडवांस क्यों न हो, प्राकृतिक आपदा का शिकार कोई भी हो सकता है, इसलिए हमें प्रकृति के साथ खिलवाड़ नहीं करना चाहिए। अन्यथा इसका असर हमें प्राकृतिक आपदा के रूप में ही देखना पड़ता है और भारी जानमाल का नुकसान उठाना पड़ता है।

नवंबर में भी हुई थी भारी बारिश

दुबई में पिछले साल भी नवंबर में भारी बारिश के कारण मौसम खराब हो गया था। उस समय दुबई में इतने खराब हालात हो गए थे कि प्रशासन ने लोगों को समुद्री किनारों पर जाने पर रोक लगा दी थी। उस समय दुनियाभर के वैज्ञानिक गर्म और रेगिस्तानी देश के मौसम में आए, इस तरह के बदलाव से काफी हैरान हो गए थे।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.