chinese-scientists-break-aerostat-height-record
chinese-scientists-break-aerostat-height-record

चीनी वैज्ञानिकों ने एयरोस्टेट ऊंचाई का रिकॉर्ड तोड़ा

बीजिंग, 15 मई (आईएएनएस)। चीनी वैज्ञानिकों ने छिंगहाई-तिब्बत पठार पर 9,032 मीटर की रिकॉर्ड ऊंचाई पर मौसम के आंकड़े एकत्र करने के लिए रविवार को हीलियम से भरा एक विशाल एयरशिप चिमू-1 एयरोस्टेट का नवीनतम मॉडल लॉन्च किया है। यह पहली बार है जब इसके आकार का एक एयरोस्टेट इस ऊंचाई पर पहुंचा, यहां तक कि 8.849 मीटर ऊंचे चुमुलांगमा पर्वत (माउंट एवरेस्ट) के शिखर को भी पार कर गया। चीनी विज्ञान अकादमी के तिब्बती पठार अनुसंधान संस्थान के अनुसार, इस बंधे हुए एयरशिप की सतह उन्नत मिश्रित कपड़े से बनी है, जो -70 डिग्री सेल्सियस के तापमान का सामना कर सकती है, और इसका पैमाना 9,060 घन मीटर और वजन लगभग 2.6 मीट्रिक टन है। यह विमान कई वैज्ञानिक उपकरणों को ले जा सकता है जो वैज्ञानिकों को वायुमंडलीय डेटा एकत्र करने और नमी परिवहन प्रक्रिया का अध्ययन करने और अत्यधिक ऊंचाई पर ब्लैक कार्बन, धूल, मीथेन, कार्बन डाइऑक्साइड और अन्य पदार्थों में परिवर्तन को ट्रैक करने में मदद देता है। दरअसल, वैज्ञानिकों को उम्मीद है कि यह डेटा महत्वपूर्ण अंतर्²ष्टि दे सकता है कि कैसे पछुआ हवाएं, मध्य अक्षांशों में पश्चिम से पूर्व की ओर हवाएं, छिंगहाई-तिब्बत पठार पर पर्यावरण को प्रभावित कर सकती हैं। जलवायु परिवर्तन के प्रभावों का निरीक्षण करने के लिए पठार पर प्रमुख वायुमंडलीय डेटा एकत्र करने के उद्देश्य से चिमू-1 मॉडल ककक तीन हवाई जहाजों में से नवीनतम है। पहला मॉडल 2019 में लॉन्च किया गया था और यह 7,003 मीटर की ऊंचाई तक पहुंच गया था। (अखिल पाराशर, पेइचिंग) --आईएएनएस एसजीके

Related Stories

No stories found.