Bitcoin ने तोड़ा लाइफटाइम हाई रिकॉर्ड, इंटरनेशनल मार्केट में डॉलर 69000 के पार, निवेशक हुए मालामाल

Bitcoin Record High: दुनिया की सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी ने 28 महीने के बाद अपने लाइफ टाइम हाई का रिकॉर्ड तोड़ा है। बिटकॉइन की कीमत इंटरनेशनल मार्केट में 69 हजार डॉलर के पार पहुंची है।
लाइफटाइम हाई पर बिटकॉइन।
लाइफटाइम हाई पर बिटकॉइन।रफ्तार।

नई दिल्ली, रफ्तार। दुनिया की सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी ने 28 महीने के बाद अपने लाइफ टाइम का हाई का रिकॉर्ड तोड़ा है। बिटकॉइन की कीमत इंटरनेशनल मार्केट में 69 हजार डॉलर के पार पहुंची है। मौजूदा साल में बिटकॉन निवेशकों को करीब 60 फीसदी से ज्यादा रिटर्न दिया है। अमेरिका में क्रिप्टोकरेंसी के एक्सचेंज ट्रेडेड फंड में लगातार निवेश कर रहे हैं, जिससे बिटकॉइन की डिमांड में इजाफा दिख रहा है। बिटकॉइन ने अपना ही रिकॉर्ड 28 महीने के बाद तोड़ दिया है। नवंबर 2021 के पहले सप्ताह में 68991 डॉलर के साथ के साथ लाइफ टाइम हाई का रिकॉर्ड बनाया था, जो मौजूदा समय में 69 हजार डॉलर के पार पहुंचा है।

इजाफे की वजह

बिटकॉइन में तेजी के दो प्रमुख कारण हैं। पहला कारण यूएस क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज ट्रेडेड फंड में ​बिटकॉइन की बढ़ती मांग। सप्लाई कम होने से कीमतों में इजाफा दिख रहा है। दूसरा प्रमुख कारण अमेरिकी फेड रिजर्व आने वाले महीनों में ब्याज दरों में कटौती का ऐलान कर सकता है, जिससे डॉलर इंडेक्स में गिरावट दिख रही और बिटकॉइन की कीमत में इजाफा है। जानकार बताते हैं कि जनवरी अंत में यूएस में सिक्योरिटीज एंड एक्सचेंज कमीशन की ओर से 11 स्पॉट बिटकॉइन ईटीएफ की मंजूरी के बाद निवेशकों की इसमें दिलचस्पी बढ़ गई है। इस कारण कीमतों में इजाफा दिख रहा है।

साल 2022 में मंदी में चला गया था बिटकॉइन

साल 2022 से बिटकॉइन में मंदी था। बिटकॉइन या कहें कि क्रिप्टोकरेंसी मार्केट में डेढ़ साल तक मंदी रही। दिसंबर 2022 तक बिटकॉइन के दाम 16000 डॉलर से नीचे पहुंचे गए थे। ​इसका एक और कारण यह भी था कि ब्याज दरों में बढ़ोतरी के साथ कई क्रिप्टो कॉरपोरेट बैंकरप्ट हुए। कई कंपनियों में घोटाले सामने आए, जिससे निवेशकों का रुझान बिटकॉइन से कम हुआ। इस कारण डेढ़ साल तक दुनिया की सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी मंदी की चपेट में रही।

एक साल में 200% रिटर्न

अक्टूबर के बाद से बिटकॉइन में लगभग 160 फीसदी का इजाफा देखने को मिला है. जिसमें 44% की वृद्धि केवल फरवरी में ही हुई है। इस साल बिटकॉइन निवेशकों को करीब 60 फीसदी रिटर्न दे चुका है। बीते एक हफ्ते बिटकॉइन के दाम 20 फीसदी से अधिक बढ़े हैं। पूरे एक साल में बिटकॉइन ने निवेशकों को 200 फीसदी रिटर्न दिया है। बीते एक महीने में यह रिटर्न 60 फीसदी तक पहुंचा। जानकार बताते हैं कि आने वाले दिनों में बिटकॉइन की कीमत में और इजाफा दिख सकता है।

बिटकॉइन एक लाख डॉलर को करेगा पार

ब्याज दरों में कटौती की संभावना बनी हुई है। गुरुवार यानी 7 मार्च को फेड चेयरमैन जेरोम पॉवेल की स्पीच से इसके संकेत साफ मिलेंगे। अनुमान है कि 1 मई को जेरोम पॉवेल पॉलिसी रेट में 0.50 फीसदी की कटौती की घोषणा कर सकते हैं, जिससे डॉलर इंडेक्स में गिरावट आएगी और बिटकॉइन समेत बाकी क्रिप्टोकरेंसी की कीमतें बढ़ेंगी। जानकार बताते हैं कि साल अंत तक बिटकॉइन के दाम एक लाख डॉलर को पार कर सकते हैं।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.