राम मंदिर को लेकर पाकिस्तान के सुर में बोला OIC, बाबरी को बताया शहीद

अयोध्या में राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा को लेकर दुनिया के कई देश बयान जारी कर चुके हैं। अब ऑर्गनाइजेशन ऑफ इस्लामिक कोऑपरेशन (OIC) ने पाकिस्तान के सुर में सुर मिलाया है।
OIC  statement against Ram mandir
OIC statement against Ram mandir Social media

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। अयोध्या में बने राम मंदिर की ऑर्गनाइजेशन ऑफ इस्लामिक कोऑपरेशन (OIC) ने आलोचना की है। OIC 57 मुस्लिम देशों का प्रतिनिधित्व करने वाली संस्था है। इससे पहले पाकिस्तान ने राम मंदिर निर्माण को लेकर नकारात्मक टिप्पणी की थी, OIC का बयान उसी टिप्पणी के सुर में सुर मिला रहा है। OIC ने कहा, 'बाबरी मस्जिद को शहीद करके बनाए गए मंदिर की हम कड़ी आलोचना करते हैं। मस्जिद को ध्वस्त करके उस जगह पर मंदिर बनाना चिंताजनक है। हम इसे स्वीकार नहीं कर सकते हैं।'

ओआईसी क्या है

OIC जिसका पूरा नाम ऑर्गनाइजेशन इस्लामिक कोऑपरेशन है। यह दुनिया के 57 मुस्लिम देशों का संगठन है। हर साल ओआईसी मुस्लिम देशों की समस्या और चिंता को लेकर एक बैठक करता है। जहां सभी देश अपनी बात रखते है। ओआईसी में साउदी अरब का दबदबा है। आपको बता दें कि ओआईसी संयुक्त राष्ट्र के बाद दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा इंटर गवर्नमेंटल समूह है। साथ ही मुस्लिम देशों की सुरक्षा की जिम्मेदारी भी इसी संगठन की होती है।

भारत सदस्य क्यों नहीं बना

भारत मुस्लिम आबादी के लिहाज से दुनिया का तीसरा बड़ा देश है। फिर भी वह इस संगठन का हिस्सा नहीं है। ओआईसी में मुस्लिम देशों के अलावा रूस को 2005 में एक ऑब्जर्वर के तौर पर शामिल किया गया था। वहीं साल 1998 में बौद्ध देश थाइलैंड को सुपरवाइजर के तौर पर शामिल किया गया। साल 2006 में जब तत्कालीन साउदी अरब के किंग अब्दुल्लाह बिन अजीज भारत दौरे पर आए तो उन्होंने भारत को ओआईसी में पर्यवेक्षक बनाने की बात रखी थी। लेकिन बाद में इसका विरोध हुआ।

Related Stories

No stories found.