बोइंग विमानों में खामी बताने वाले दूसरे व्हिसलब्लोअर की भी हुई मौत

स्पिरिट एयरोसिस्टम्स के पूर्व कर्मचारी जोशुआ डीन की अचानक बीमारी के बाद मृत्यु हो गई, परिवार का कहना है कि बोइंग के सुरक्षा के मामले में एक युवक ने पहले भी उठाई थी आवाज।
Boeing Plane
Boeing Planeraftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। बोइंग 737 मैक्स की खामियों को उजागर करने वाले और सप्लायर पर इन खामियों को नजरअंदाज करने का आरोप लगाने वाले व्हिसलब्लोअर की मौत हो गई है। जोशुआ डीन के परिवार ने उनके निधन की जानकारी दी है। इससे पहले इसी मामले के दूसरे व्हिसलब्लोर जॉन बारनेट की कथित तौर पर आत्महत्या से मौत हो गई थी।

क्या है मामला

जोशुआ डीन, स्पिरिट एयरोसिस्टम्स के एक पूर्व कर्मचारी थे। उन्होंने आरोप लगाया था कि उन्हें कंपनी के विचिटा, कंसास, मैनुफेक्चरिंग प्लांट में खामियों के खिलाफ आवाज उठाने पर निकाल दिया गया था। मंगलवार को अचानक बीमारी के बाद उनकी मृत्यु हो गई, उनकी बहन ने सोशल मीडिया पर पोस्ट में कहा।

वकील का कहना डीन का देहांत दुखद

डीन के वकील ने कहा कि उनका देहांत एविएशन कम्युनिटी के लिए काफी खेदभरा है। उनके वकील के अनुसार, डीन ने बहुत हिम्मत दिखा कर अपना सब कुछ दांव पर लगा दिया केवल सही और गलत के लिए। जिससे लोगों के लिए सुरक्षा के पैमानों में कमी ना आए। एविएशन कंपनियों को ऐसे लोगों के लिए खड़ा होना चाहिए, जो इस तरह से सुरक्षा की फिक्र करते हैं।

मां ने बताई डीन की बीती

डीन की मां ने फेसबुक पोस्ट किया कि उनका बेटा पिछले महीने अपनी जिंदगी के लिए लड़ाई लड़ रहा था। उसे निमोनिया और स्ट्रोक पड़ा था। उससे पहले वह एक इंफेक्शन से भी लड़ रहा था।

बोइंग के मामले है कुछ अटपटे

वकीलों के अनुसार, 62 वर्षीय बारनेट बोइंग 787 ड्रीमलाइनर के साथ सुरक्षा समस्याओं को उजागर करने के लिए आवाज उठाई थी। जिसके बाद उन्हें बोइंग के खिलाफ एक मुकदमे में गवाही देनी थी लेकिन उन्होंने आत्महत्या कर ली।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.