Sidhu Moose Wala के पिता का आरोप: बच्चे के जन्म को लेकर प्रताड़ित कर रही है पंजाब सरकार

दिवंगत पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला के माता-पिता उनकी मौत के दो साल बाद IVF की मदद से दोबारा माता-पिता बने हैं।
Sidhu Moose Wala father accuses Punjab government
Sidhu Moose Wala father accuses Punjab government www.raftaar.in

नई दिल्ली रफ्तार डेस्क। दिवंगत सिंगर सिद्धू मूसेवाला के पिता ने पंजाब सरकार पर प्रताड़ना का आरोप लगाया है। उन्होंने इंस्टाग्राम पर एक वीडियो पोस्ट किया है, जिसमें वो कह रहे हैं कि पंजाब सरकार बच्चे के जन्म से जुड़े दस्तावेज जमा करने का दबाव उन पर बना रही है। गौरतलब है कि पंजाबी सिंगर शुभदीप सिंह सिद्धू उर्फ सिद्धू मूसेवाला के माता-पिता उनकी मौत के करीब दो साल बाद IVF की मदद से दोबारा पेरेंट्स बने हैं। बच्चे का जन्म 17 मार्च को हुआ था।

पंजाब सरकार पर लगया आरोप

वायरल हो रहे वीडियो में बलकौर सिंह का कहना है कि उनके बच्चे के जन्म के बाद से उन्हें पंजाब सरकार द्वारा परेशान किया जा रहा है।उन्होंने पंजाब सरकार पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि प्रशासन उनसे उनके नवजात बच्चे की वैधता का सर्टिफिकेट मांग रहा है। उन्होंने कहा ''वाहेगुरु के आशीर्वाद से हमें हमारा बेटा वापस मिल गया। लेकिन सरकार सुबह से ही मुझे परेशान कर रही है, मुझसे बच्चे के दस्तावेज देने के लिए परेशान किया जा रहा है। वे यह साबित करने के लिए मुझसे पूछताछ कर रहे हैं कि यह बच्चा वैध है या नहीं। मैं सरकार और पंजाब सीएम भगवंत मान से आग्रह करता हूं कि मेरी पत्नी और बच्चे का इलाज होने तक उनके पूरी तरह से स्वस्थ होने तक हमें परेशान न किया जाए। और मैं और मेरे घरवाले यहीं हैं जो भी प्रसन्न होगा उसका जवाब देने के लिए तैयार हूँ। "

IVF का कानून

सरकार ने दिसंबर 2021 को यह कानून बनाया था। जिसके तहत क्लीनिकों को विवाहित जोड़ों और एकल महिलाओं दोनों को एआरटी उपचार करने के लिए व्यक्ति की आयु 21 से 55 वर्ष के बीच होनी चाहिए, जबकि उपचार का अनुरोध करने वाली महिला की आयु 21 से 50 वर्ष के बीच होनी चाहिए।रिपोर्ट्स के मुताबिक, चरण कौर 58 साल की हैं और बलकौर सिंह 60 साल के हैं।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें- Hindi News Today: ताज़ा खबरें, Latest News in Hindi, हिन्दी समाचार, आज का राशिफल, Raftaar - रफ्तार

Related Stories

No stories found.