20 लाख हड़पने के आरोपित की जमानत अर्जी खारिज

the-bail-application-of-the-accused-of-20-lakh-grab-dismissed
the-bail-application-of-the-accused-of-20-lakh-grab-dismissed

नैनीताल, 16 मार्च (हि.स.)। जिला मुख्यालय स्थित हांडी-भांड में पहले से बेचे जा चुके एक आवासीय भवन को दुबारा बेचने का करारनामा करके बयाने के तौर पर 20 लाख रुपये हड़पने वाले आरोपित सुमेर अरोरा की जमानत अर्जी को प्रभारी जिला एवं सत्र न्यायाधीश-द्वितीय अपर जिला सत्र न्यायाधीश राकेश कुमार सिंह की अदालत ने खारिज कर दिया। मंगलवार को जमानत अर्जी का विरोध करते हुए न्यायालय को बताया गया कि सोनिया वालिया उर्फ सुमन वालिया पुत्री स्वर्गीय श्रवण कुमार निवासी सी-61-6 श्रद्धा अपार्टमेंट सेक्टर 25 जूही नगर नवी मुंबई महाराष्ट्र व सुमित अरोरा पुत्र स्वर्गीय पीपी अरोरा निवासी कॉटेज नंबर ए-7, हांडी-बांडी सूखाताल नैनीताल के विरुद्ध मालवीय नगर नई दिल्ली निवासी केसर मेहरा पुत्र स्वर्गीय किशन मेहरा ने बयाने में 10 लाख रुपए लेने के बाद तय तिथि पर शेष 20 लाख रुपए लेकर रजिस्ट्री कराने से मुकरने और बाद में कहने पर शिकायतकर्ता व उसके साथियों से गाली-गलौच व जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाया है। दोनों ने न्यायालय में अपनी गिरफ्तारी से बचने के लिए पूर्व में अग्रिम जमानत प्रार्थना पत्र भी दिया था, जिसे न्यायालय ने खारिज कर दिया था। यह भी बताया कि आरोपित ने अपने जीजा को भी यह भवन बेचकर ठगा था। इसके बाद गिरफ्तार आरोपितों में से सुमित अरोरा ने जमानत अर्जी दी जिसे अभियोजन पक्ष की पैरवी के बाद खारिज कर दिया गया। हिन्दुस्थान समाचार/डॉ.नवीन जोशी/मुकुंद

Related Stories

No stories found.