Rahul Gandhi Truck Ride: राहुल गांधी ने ट्रक ड्राइवरों के साथ सफर का वीडियो किया जारी, सुनीं उनकी परेशानियां

दिल्ली से शिमला जाते समय मुरथल में राहुल गांधी की मुलाकात हरियाणा और पंजाब के ट्रक ड्राइवरों के एक समूह से हुई थी। इसका वीडियो अब उन्होंने सोशल मीडिया पर शेयर किया है।
Rahul Gandhi
Rahul Gandhi

नई दिल्ली, रफ्तार न्यूज डेस्क। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सोमवार को ट्रक से की गई अपनी यात्रा का वीडियो अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स के जरिये जारी किया। राहुल गांधी ने अपने यूट्यूब चैनल पर पूरा वीडियो शेयर किया है। जबकि ट्विटर पर कुछ झलकियों के साथ वीडियो शेयर किया गया है।

चंडीगढ़ तक ट्रक में किया था सफर

वीडियो के डिस्क्रिप्शन में दी गई जानकारी के अनुसार, दिल्ली से शिमला जाते समय मुरथल में राहुल गांधी की मुलाकात हरियाणा और पंजाब के ट्रक ड्राइवरों के एक समूह से हुई थी। एक ट्रक ड्राइवर प्रेम राजपूत की ओर से अनुरोध किए जाने पर राहुल गांधी ने उसके ट्रक से चंडीगढ़ तक सफर किया था। राहुल गांधी ने कहा, ''यह 6 घंटे की ट्रक यात्रा बेहद रोचक थी, इस दौरान मैंने ट्रक ड्राइवरों के जीवन के बारे में बहुत जाना।'' 

राहुल की ट्रक ड्राइवरों से बातचीत

वीडियो में राहुल गांधी के चाय पीते हुए, खाना खाते हुए, लोगों से मिलते हुए और ट्रक ड्राइवरों से बातचीत करने जैसे सीन हैं। मुरथल के एक ढाबे में ट्रक ड्राइवरों से राहुल गांधी पूछते दिख रहे हैं कि वे इस काम में कैसे आए, इसकी शुरुआत कैसे की और महीने भर में कितना चला लेते हैं, कितने दिन ट्रक चलाते हैं, छुट्टियां कितनी मिलती हैं? इसके अलावा भी उन्होंने कई सवाल किए। 

एक ड्राइकर कहता है कि वह 12 से 24 घंटे तक ट्रक चलाता है। राहुल गांधी कहते हैं कि यह मुश्किल काम है बहुत। वह ड्राइवरों से पूछते हैं कि पैसा कितना मिलता है? इस पर ड्राइवर बताते हैं कि मुश्किल से 10 हजार रुपये मिलते हैं। इसी से परिवार को पालते हैं। राहुल गांधी सवाल करते हैं कि 10 हजार रुपये में कितने घंटे ट्रक चलाना होता है तो ड्राइवर कहते हैं कि 24 घंटे।

राहुल ने पूछा सरकार आपके लिए क्या कर सकती है?

राहुल ड्राइवरों से पूछते हैं कि अगर सरकार आपके लिए कुछ करे तो सरकार को क्या करना चाहिए? इस पर एक ड्राइवर कहता है कि 12 घंटे की शिफ्ट में काम होना चाहिए जिससे आराम मिल सके। ड्राइवर बताते हैं कि उन्हें ओवर टाइम जैसा कुछ भी नहीं मिलता है। माल खराब होने या चोरी होने पर ड्राइवर पर ही बात आती है।

Related Stories

No stories found.