Wipro में तेजी क्यों? छुआ नया 52-वीक हाई, पढ़ें पूरा अपडेट

Share Market Update: शेयर बाजार में आईटी (IT) कंपनियों के दमदार नतीजों का असर देखने को मिल रहा है। बाजार के प्रमुख इंडेक्स नए रिकॉर्ड हाई पर ट्रेड कर रहे।
शेयर बाजार में आईटी कंपनियों में बढ़त।
शेयर बाजार में आईटी कंपनियों में बढ़त।रफ्तार।

नई दिल्ली, रफ्तार। शेयर बाजार में आईटी (IT) कंपनियों के दमदार नतीजों का असर देखने को मिल रहा है। बाजार के प्रमुख इंडेक्स नए रिकॉर्ड हाई पर ट्रेड कर रहे। अच्छे नतीजे पेश करने वाली आईटी कंपनियों में विप्रो का नाम भी है। अक्टूबर से दिसंबर तक में Wipro को 2694 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ है। नतीजों के बाद ADR में जबरदस्त एक्शन दिखा। 16 वर्षों में पहली बार इंट्राडे में यह 19 प्रतिशत तक बढ़ा। बाजार खुलने पर शेयर में 10 प्रतिशत का अपर सर्किट लगा। शेयर ने आज नया 52-वीक हाई टच कर दिया।

2694 करोड़ रुपए का मुनाफा

IT कंपनी को दिसंबर तिमाही में 2694 करोड़ रुपए का प्रॉफिट हुआ है, जबकि 2600 करोड़ रुपए का अनुमान था। अनुमान से बेहतर 22205 करोड़ रुपए आय रही। डॉलर आय 265.6 करोड़ रही। आईटी सर्विसेज मार्जिन 16 प्रतिशत रही। कंपनी ने 2 रुपए के फेस वैल्यू पर 1 रुपए प्रति शेयर के अंतरिम डिविडेंड का ऐलान किया है। वित्त वर्ष 24 के लिए कंपनी CC रेवेन्यू गाइडेंस 1.5 प्रतिशत से +0.5 प्रतिशत दिया है।

Q3 Results में खास क्या रहा?

1 बड़ी डील्स में मजबूत ग्रोथ। तीसरी तिमाही में बुकिंग की गति मजबूत बनी रही। बड़ी डील में YTD 20 प्रतिशत सालाना ग्रोथ दिखी।

2 कंसल्टिंग कारोबार में तेजी वापस आई। Capco बिजनेस के ऑर्डर में डबल-डिजिट ग्रोथ दिखी। साल 2021 में Capco का अधिग्रहण किया था।

3 एआई में बड़े मौके। आर्थिक माहौल में सुधार से एआई में बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद है। एआई में किए गए निवेश से बेहतर प्रदर्शन में मजूबती मिलेगी।

4 अनुमान से बेहतर आय हुई। मार्जिन CC आय 1.7 प्रतिशत घटी, 2.5 प्रतिशत गिरने की आशंका थी।

IT सर्विस मार्जिन 16 प्रतिशत, 15.1 प्रतिशत का अनुमान था

नए शिखर पर Wipro शेयर

बाम्बे स्टॉक एक्सचेंज पर विप्रो के शेयर ने 526.45 रुपए का लेवल टच किया। यह नया 52-वीक हाई है। शेयर इंट्राडे में 10 फीसदी से अधिक बढ़ोतरी है। दिग्गज आईटी कंपनी का कुल मार्केट कैप 2.62 लाख करोड़ रुपए है। अभी 504 रुपए पर ट्रेड कर रहा है।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.