Stock Market Opening: क्यों गिरा आज शेयर बाजार? सेंसेक्स 73300 तक फिसला, जानें बड़े कारण

Stock Market Crash: आज सुबह 10 बजे तक बीएसई सेंसेक्स 575.99 अंक गिरा है। एनएसई निफ्टी में 168.35 अंकों की कमजोरी आई है।
शेयर बाजार में गिरावट।
शेयर बाजार में गिरावट। रफ्तार।

नई दिल्ली, रफ्तार। इस सप्ताह के पहले यानी आज भारतीय शेयर बाजार में भारी गिरावट है। शुरुआती कारोबारी में सेंसेक्स 900 अंकों से अधिक गिरा है। निफ्टी में भी बड़ी गिरावट दर्ज हुई है। सुबह 10 बजे तक बीएसई सेंसेक्स 575.99 अंक गिरकर 73,671.21 के लेवल पर कारोबार कर रहा है। एनएसई निफ्टी 168.35 अंक लुढ़कर 22351.05 के लेवल पर कारोबार कर रहा है। शेयर बाजार में चौतरफा बिकवाली दिख रही है।

बाजार में गिरावट के प्रमुख कारण :

1. इजरायल और ईरान युद्ध

इजरायल और ईरान युद्ध के कारण मध्य-पूर्व क्षेत्र में तनाव बढ़ा है। इससे भारतीय बाजार में आज गिरावट आई है। यह सबसे प्रमुख कारण है।

2. अमेरिकी डॉलर में मजबूती

भू-राजनीतिक तनाव की वजह से अमेरिकी डॉलर में मजबूती बढ़ी है। वहीं, रुपया कमजोर हो गया है। सोमवार को शुरुआती कारोबार में रुपया छह पैसे गिरकर अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 83.44 पर रहा, जिससे भी बाजार का मूड खराब हुआ।

3. ग्लोबल मार्केट में बिकवाली

मध्य पूर्व में तनाव बढ़ने के कारण ग्लोबल मार्केट में बिकवाली हावी हुई है। शुक्रवार को अमेरिकी शेयर बाजार गिरावट के साथ बंद हुआ था। आज सुबह के शुरुआती सत्र में प्रमुख एशियाई बाजार जैसे-निक्केई, हैंग सेंग, कोस्पी आदि दबाव में कारोबार कर रहे। इसका प्रभाव भी भारतीय बाजार पर दिखा है।

4. विदेशी निवेशकों की बिकवाली भी वजह

दुनिया में तनाव बढ़ने के चलते भारतीय बाजार से विदेशी निवेशक पैसा निकाल रहे हैं। शुक्रवार को एफपीआई ने 8027 करोड़ रुपये की बिकवाली की थी। यह ट्रेंड आगे भी रह सकता है। इसका असर भी बाजार पर दिख रहा है।

5. भारत और मॉरीशस कर संधि में बदलाव

भारत और मॉरीशस के बीच डबल टैक्सेशन एवॉयडेंस एग्रीमेंट में संशोधन किया है। इसके बाद मॉरीशस के रास्ते भारत में आने वाले निवेश पर कड़ी नजर रहेगी, जिससे विदेशी निवेश प्रभावित होने की आशंका है। इसका भी असर बाजार पर दिखा है।

6. कच्चे तेल की कीमतों में उछाल

इजरायल पर ईरान के हमले के बाद कच्चे तेल की कीमतें बढ़ी हैं। दोनों देशों में युद्ध होता है तो ब्रेंट क्रूड ऑयल का भाव 100 डॉलर प्रति बैरल के पार जा सकता है। अभी यह 90 डॉलर प्रति बैरल के आसपास है, जिसका भी असर भारतीय बाजार पर दिख रहा है।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.